रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ में महंगाई के मुद्दे को लेकर कांग्रेस अब मंडियों और बाजारों में चौपाल लगाकर चर्चा करेगी। इसमें आठ साल पहले की कीमतों की तुलना आज की कीमत से करके भाजपा सरकार को घेरेगी। प्रदेश में डेढ़ साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस गांव-गांव महंगाई के खिलाफ माहौल बनाने की तैयारी में है। इसके लिए प्रदेश संगठन ने पंपलेट और वीडियो तैयार किए हैं। पंपलेट में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के वर्ष 2014 में दिए नारों का जिक्र रहेगा। कांग्रेस का यह अभियान 18 अगस्त से 23 अगस्त तक मंडियों और बाजारों में चलेगा।

कांग्रेस नेताओं का कहना है कि पीएम मोदी ने अपने हर चुनावी सभा में दावा किया था कि सत्ता में आने के बाद बेरोजगारी और महंगाई पर नियंत्रण करेंगे। लेकिन जब से केंद्र में भाजपा सरकार आई है, कीमतों में मनमानी वृद्धि हुई है। महंगाई के लिए केंद्र सरकार की गलत नीतियों के साथ कांग्रेस ने जीएसटी को भी जिम्मेदार बताया है।

कांग्रेस ने आंकड़े जारी करते हुए दावा किया कि केंद्र सरकार यूपीए सरकार की तुलना में पेट्रोल-डीजल पर 186 प्रतिशत ज्यादा टैक्स वसूल रही है। भाजपा के सत्ता में आने से पहले 2014 में पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 9.48 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 3.56 रुपये प्रति लीटर था। मोदी सरकार ने इसे बढ़ाकर पेट्रोल पर 32.98 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 31.83 रुपये प्रति लीटर कर दिया जबकि वर्ष 2021-22 में देश का कुल कर संग्रह 34 फीसद बढ़ा है। पीएम मोदी की विफल आर्थिक नीतियों के कारण देश में महंगाई रिकार्ड स्तर पर है। बीते 14 महीनों से महंगाई दर दोहरे अंकों में है। रोज उपयोग होने वाली वस्तुओं पर जीएसटी लगाया गया है। बच्चों की पेंसिल से लेकर अस्पताल के बेड और शमशान घाट के निर्माण पर भी जीएसटी लगा दिया गया है।

यूपीए सरकार के आंकड़े जारी करके बताया महंगाई का मर्म

कांग्रेस ने यूपीए सरकार के समय के आंकड़े जारी करके महंगाई का मर्म बताया। एलपीजी सिलेंडर की कीमत में 166 फीसद, पेट्रोल में 40 फीसद, डीजल में 75 फीसद, सरसो तेल में 122 फीसद, आटा में 81 फीसद, दूध में 71 फीसद और सब्जियों की कीमत में 35 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। नमक 41 प्रतिशत और दालें 60-65 प्रतिशत तक महंगी हो गई है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा, कांग्रेस पार्टी देशभर में महंगाई के खिलाफ आंदोलनरत है। छत्तीसगढ़ में सभी जिलों की मंडियों और बाजारों में कांग्रेस पार्टी महंगाई पर चर्चा कार्यक्रम का आयोजन करेगी। साथ ही महंगाई को लेकर पर्चा वितरित कर जनजागरण चलाया जाएगा।

टेबल

उत्पाद- वर्ष 2014 (यूपीए सरकार)- वर्ष 2022 (एनडीए सरकार)

एलपीजी सिलिंडर 410 -1100

पेट्रोल 71 -100

डीजल 57 - 95

सरसों तेल 90 -200

आटा 22 -35 से 40

दूध 35 - 60

(कीमत रुपये में)

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close