रायपुर। दुर्ग-भिलाई की सीमा पर जेल तिराहा के पास हुडको रेलवे क्रासिंग बार-बार बंद होने के कारण जनता को समय और आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा था। अब ओवरब्रिज निर्माण से लोगों को स्कूल, अस्पताल सहित जिला मुख्यालय पहुंचने में न सिर्फ आवागमन में सुविधा होगी, अपितु समय की भी बचत होगी। ब्रिज का निर्माण अंतिम चरण में है। फरवरी महीने में इसके लोकार्पण की तैयारी की जा रही है।

दुर्ग विधायक अरुण वोरा ने बताया कि हुडको रेलवे क्रांसिग पर बन रहे ओवर ब्रिज के 37 खंभों पर पूरा ढांचा तैयार हो चुका है। प्रकाश व्यवस्था, डामरीकरण एवं रंगाई पुताई का काम भी पूर्णता की ओर है। 41 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे उक्त रेलवे ओवर ब्रिज के लिए पूर्व में तत्कालीन राज्यसभा सांसद मोतीलाल वोरा ने भी राज्य एवं केंद्र सरकार से पत्र व्यवहार किया था।

लगभग दो साल में यह निर्माण पूर्ण होने जा रहा है। निरीक्षण में पहुंचे विधायक अरुण वोरा ने लोनिवि ब्रिज विभाग के अधिकारियों से कहा कि अतिशीघ्र कार्य को निष्पादित कराया जाए। फरवरी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू के हाथों इस भव्य ब्रिज का लोकार्पण करवा कर दुर्ग-भिलाई के नागरिकों को समर्पित किया जाएगा।

विधायक वोरा ने बताया कि 14 करोड़ रुपये के ठगड़ा बांध सुंदरीकरण हो जाने के बाद शहर का प्रवेश स्थल नए कलेवर में नजर आएगा। अधिकारियों ने विधायक वोरा को जानकारी देते हुए कहा कि डामरीकरण का कार्य अंतिम चरण में है। 20 दिनों के भीतर कार्य पूर्ण करवाने का प्रयास किया जाएगा, जिसके बाद ब्रिज लोकार्पण के लिए तैयार हो जाएगा। निरीक्षण के दौरान पूर्व पार्षद राजेश शर्मा, ब्रिज विभाग के उप अभियंता आइएल देशमुख मौजूद रहे।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस