सतीश पाण्डेय, रायपुर। Effect Of Corona: रायपुर नगर निगम में 34 स्थानों पर 94 हेक्टेयर जमीन पर 11 हजार 581 पीएम आवास बनाए गए है, जबकि लक्ष्य 21 हजार आवास का है। शासन से 16 हजार 627 आवास निर्माण की स्वीकृति मिल चुकी है। इनमेंं से 2721 आवास का निर्माण पूरा कराकर निगम ने 12 झुग्गी बस्तियों के हितग्राहियों को 1264 आवासों का आवंटन कर दिया है। शेष आवासों का निर्माण कार्य कोरोना संकटकाल की वजह से प्रभावित हुआ है।

रायपुर नगर निगम मुख्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, निगम क्षेत्र में दो घटकों में एएचपी भागीरथी पीएम आवास और मोर जमीन मोर मकान के तहत किया जा रहा है। भागीरथी योजना में निर्माणाधीन 12 हजार 581 आवास के लिए 454.25 करोड़ रुपये निगम को मिले हैं। इसमें सूडा से 330.79 करोड़ प्राप्त हुए हैं। आवास निर्माण कार्य में अब तक 330.769 करोड़ की राशि खर्च की जा चुकी है। इसी तरह बीएलसी योजना (मोर जमीन मोर मकान) में 22626 आवासों के निर्माण का लक्ष्य रखा गया है।

इसमें 11239 आवास की स्वीकृति शासन से प्राप्त है और 4098 आवास बनकर तैयार हैं, जबकि 1338 निर्माणाधीन हैं। इसमें 482 फाउंडेशन स्टेज में है,179 लिंटल और 667 रूफ लेबल में हैं। इन आवासों के निर्माण के लिए सूडा से 117.56 करोड़ जारी हुआ है, जिसमें निगम ने 102 करोड़ का खर्च किया है,शेष 1346 आवासों का निर्माण कार्य प्रगति पर है।

यहां बने हैं मकान

मकान संजय गांधीनगर गुढ़ियारी, जगन्नाथनगर कोटा, ज्योतिनगर वाटिकानगर, टिकरापारा स्वीपर कालोनी, शताब्दीनगर, तेलीबांधा तालाब के किनारे, राजीवनगर, गंगानगर, करबला तालाब के लोगों को आबंटित कर व्यस्थापित किया जा चुका है, शेष मकानों का आवंटन प्रक्रिया में है।

वर्जन-

रायपुर निगम क्षेत्र में दो घटकों में एएचपी भागीरथी (पीएम आवास) और मोर जमीन मोर मकान योजना के तहत हजारों पक्के आवासों का निर्माण कर झुग्गी बस्तियों के लोगों को आवंटित किया जा चुका है। अभी भी कई आवास निर्माणाधीन हैं। यह भी पात्र हितग्राही परिवार को आवंटित किया जाएगा।

-राजेश शर्मा, कार्यपालन अभियंता, रायपुर नगर निगम

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local