रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। टीकाकरण अभियान में पिछले नौ माह से अनवरत योगदान दे रहे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, रायपुर के स्वास्थ्य अधिकारियों और कर्मचारियों को शुक्रवार को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर एम्स ने टीकाकरण अभियान में सभी के योगदान को अहम बताते हुए कहा कि बच्चों के टीकाकरण के लिए संस्थान पूरी तरह से तैयार है। केंद्र सरकार के निर्देश मिलने के साथ ही बच्चों का वैक्सीनेशन प्रारंभ कर दिया जाएगा।

देश में 100 करोड़ टीके लगाए जाने और एम्स में 40 हजार से अधिक टीके लगाए जाने के उपलक्ष में इस अभियान में जुटे चिकित्सकों से लेकर सफाई कर्मचारियों तक को सम्मानित किया गया। निदेशक प्रो. (डा.) नितिन एम. नागरकर ने कहा कि एम्स में भी तक जितने भी टीके लगाए गए हैं उसमें किसी में भी कोई प्रतिकूल प्रभाव देखने को नहीं मिला है।

उन्होंने टीका लगवा चुके सभी लोगों से अपने अनुभव अन्य के साथ साझा कर टीकाकरण से छूटे लोगों को भी अभियान का हिस्सा बनाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि केंद्र के निर्देश मिलने के साथ ही बच्चों का टीकाकरण भी प्रारंभ कर दिया जाएगा। सीएफएम विभागाध्यक्ष प्रो. मनीषा रूइकर ने बताया कि जनवरी से अब तक एम्स में 40 हजार से अधिक कोविड-19 के टीके लगाए जा चुके हैं।

निःशुल्क टीकाकरण के लिए सभी सुविधाएं एम्स में उपलब्ध हैं। उन्होंने प्रथम वैक्सीन लगवा चुके सभी लाभार्थियों से निर्धारित समय पर दूसरा टीका लगवाने और सभी से कोविड टीकाकरण अभियान का हिस्सा बनने का आह्वान किया। इस अवसर पर टीकाकरण अभियान में योगदान देने वाले सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में नोडल आफिसर डा. अंजन कुमार गिरी और डा. रमेश चंद्राकर भी मौजूद रहे।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local