रायपुर, राज्य ब्यूरो। Corona Virus In Chhattisgarh: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि राज्य में वर्तमान में कोरोना संक्रमण की स्थिति को ध्यान में रखते हुए शादी-ब्याह और दशगात्र के कार्यक्रम में 10-10 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति दी जा रही है। सभी कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक यह सुनिश्चित करें कि इनमें निर्धारित संख्या से अधिक लोग शामिल न हो। उन्होंने इसके लिए सभी कलेक्टरों और एसपी को अपने-अपने जिले में होने वाले इन कार्यक्रमों पर सख्त निगरानी रखने के निर्देश दिए है। साथ ही ऐसे कार्यक्रमों में कोविड अनुकूल व्यवहार का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने भी कहा।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शुक्रवार की शाम राजधानी स्थित अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल बैठक की। विधानसभा अध्यक्ष डा. चरण दास महंत व मंत्रीगणों सहित ज्यादा संक्रमित वाले 11 जिलों के अधिकारियों के साथ चर्चा करते हुए कोरोना संक्रमण की स्थिति के बारे में विस्तार से समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने इस दौरान चर्चा करते हुए राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों, अंतरराज्यीय सीमाओं, खदान और फैक्ट्रियों में बाहर से आने वाले लोगों की जांच के लिए सख्त निगरानी रखने के निर्देश दिए।

उन्होंने होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को भी कोविड-19 के नियमों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के लिए कहा। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्ति घर में अलग से रहे और परिवार के बाकी सदस्यों से मेल-जोल न हो, इसका विशेष ध्यान रखें। साथ ही कोरोना संक्रमित व्यक्ति के पूरे परिवार को कोरोना की दवा तत्काल उपलब्ध कराने के लिए आवश्यक निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण महत्वपूर्ण है। इसे ध्यान में रखते हुए उन्होंने सभी कलेक्टरों को अपने-अपने जिले में टीकाकरण के कार्य को विशेष गति के साथ चलाए जाने के निर्देश दिए। इसके लिए लोगों को अधिक से अधिक प्रेरित करने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के मद्देनजर राज्य के सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी सैनिटाइजर और मास्क उपलब्ध कराए जाएंगे।

विधानसभा अध्यक्ष महंत ने दिया टीकाकरण पर जोर

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष डा. महंत ने कहा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण कार्य पर विशेष जोर दिया। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने टेस्टिंग व ट्रेसिंग को बढ़ाने, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने शांति व सुरक्षा व्यवस्था, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे और वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने कोविड-19 के गाइडलाइन का पालन करने पर जोर दिया।

बैठक में स्कूल शिक्षा मंत्री डा. टेकाम, नगरीय प्रशासन मंत्री डा. शिव डहरिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने गाइडलाइन के पालन सहित ब्लाक स्तर पर अस्पतालों में आवश्यक संसाधनों में बढ़ोत्तरी के लिए कहा। इस दौरान उद्योग मंत्री कवासी लखमा, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने भी आवश्यक सुझाव दिए।

Posted By: Azmat Ali

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags