Coronavirus in Chhattisgarh : रायपुर। कोरोना वायरस देश भर में अपना असर दिखा रहा है। छत्तीसगढ़ में भी अब इसकी वजह से हालात बिगड़ रहे हैं। राज्य में अब तक 6 लोग इस वायरस से पीड़ित पाए गए हैं, जिनका उपचार एम्स में चल रहा है। इस स्थिति में अब लोगों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बेहद जरूरी हो गया है। ज्यादातर संक्रमण का खतरा उन लोगों से है जो विदेश यात्राओं से लौटे हैं। छत्तीसगढ़ में 1800 से अधिक लोग फरवरी से अब तक विदेश यात्रा कर लौटे हैं। इनमें से 1580 से अधिक लोगों की पहचान कर उन्हें क्वारेंटाइन किया गया। अभी 61 लोग निमोरा, झांझ व निजी होटल में बने क्वारेंटाइन में रखे गए हैं। 200 से अधिक लोगों को ट्रेस करना अभी भी स्वास्थ्य विभाग के लिए चुनौती बना हुआ है।

49 सैम्पल की हुई जांच

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि बुधवार को 49 सैम्पलों की जांच की गई है। इसमें दो कोरोना पॉजिटिव केस मिले हैं। इसके अलावा 33 सैम्पलों की जांच को एम्स के लैब भेजा गया है। जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है। प्रदेशभर में अब तक कुल 232 सैम्पल की जांच की गई है।

जिले वार स्थिति को समझें

जिला - सैम्पल

दुर्ग - 23

रायपुर - 163

कोंडागांव - 6

बेमेतरा - 1

रायगढ़ - 2

सरगुजा - 8

सूरजपुर - 2

जांजगीर - 2

बिलासपुर - 5

दंतेवाड़ा - 1

बलौदाबाजार - 3

राजनांदगांव - 3

कोरबा - 6

महासमुंद - 4

सुकमा - 1

जगदलपुर - 2

गरियाबंद - 1

कुल - 232, सैम्पल जांच, 229 निगेटिव, 6 पॉजिटिव

स्वास्थ्य विभाग के लिए बड़ी चुनौती

राज्य नोडल अधिकारी (कोरोनावायरस रोकथाम अभियान) डॉ धर्मेंद्र गहवई ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में लगातार ऐसे लोगों को ट्रैक किया जा रहा है, जो हाल ही में विदेश यात्रा से लौटे हैं। राज्य की सीमाओं को भी सील रखा गया है और जिनमें बीमारी के लक्षण हो सकते हैं, ऐसे लोगों को एहतियायत तौर पर अलग रखने आइशोलेशन सेंटर भेजा जा रहा है। 1800 लोगों की सूची में करीब दो सौ ऐसे लोग राज्य में हैं, जिनको ट्रैक करना पूरे स्वाथ्य विभाग के लिए चुनौती बना हुआ है।

Posted By: Prashant Pandey