आकाश शुक्ला, रायपुर। Coronavirus In Raipur: राज्य में कोरोना के मामले में सितंबर तक हाट स्पाट रही राजधानी में संक्रमण के मामले काफी कम होते नजर आ रहे हैं, लेकिन लापरवाही बरती गई तो दिक्कतें खड़ी होने में जरा भी समय नहीं लगेगा। इसलिए बेहतर है कि स्थिति को धीरे-धीरे सामान्य बनाने के लिए सभी को मास्क, शारीरिक दूरी व कोरोना से बचाव के अन्य नियमों का पालन बेहद जरूरी है।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार रायपुर जिले में एक से 24 अक्टूबर यानी 24 दिनों में प्रतिदिन औसत 274.45 मरीज मिले हैं। हर दिन 409 लोग स्वस्थ हुए और 4.16 लोगों ने प्रतिदिन दम तोड़ा। सितंबर महीने से स्थिति की तुलना पिछले महीने स्थिति काफी चिंता जनक रही। जो राजधानी को भयावह स्थिति की ओर ले जाती दिखी थी। एक से 30 सिंतबर तक हर दिन 749.83 संक्रमित मिले, स्वस्थ होने वालों का औसत 571.43 रहा। जबकि 9.36 लोगों की मौत हुई। इस लिहाज से सितंबर महीना अक्टूबर के मुकाबले बहुत ही खराब रही।

749.83 की औसत करीब आधे से भी कम यानी इस महीने प्रतिदिन 274 केस सामने आए हैं। जो स्थिति के लगातार सुधरने का संकेत तो दे रहे हैं। लेकिन त्योहारी सीजन और ठंड के मौसत में सामने आने वाली समस्याओं ने जिला स्वास्थ्य विभाग की चिंताएं बढ़ा दी है। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक कोरोना को लेकर यदि लोगों द्वारा जरूरी एहतियात नहीं बरते जाएंगे, तो मरीजों की संख्या में एकाएक वृद्धि सामने आ सकती है।

जिले में संक्रमण के अब तक के आंकड़े

तिथि - संक्रमित - स्वस्थ - मौत

18 मार्च से 31 अगस्त - 11334 - 5249 - 147

1 से 30 सितंबर - 22495 - 17143 - 281

1 से 24 अक्टूबर - 6563 - 9817 - 100

अक्टूबर महीने में हर दिन मिले संक्रमितों के आंकड़े

तिथि (अक्टूबर) - संक्रमित

1 - 358

2 - 395

3 - 308

4 - 307

5 - 270

6 - 377

7 - 391

8 - 306

9 - 336

10 - 328

11 - 231

12 - 224

13 - 339

14 - 256

15 - 264

16 - 244

17 - 182

18 - 144

19 - 196

20 - 180

21 - 209

22 - 240

23 - 202

24 - 169

25 - 144

सितंबर के मुकाबले इस महीने संक्रमण के मामले जिस तरह से कम हुए है। काफी राहत नजर आ रही है। कई कोरोना अस्पताल व सेंटरों में जहां पिछले महीने तक बिस्तरों की दिक्कतें आ रही थी। स्थिति सामान्य होते जा रही है, लेकिन लापरवाही बरतें तो फिर से स्थिति खराब हो सकती है। इसलिए हमें मास्क, शारीरिक दूरी का पालन हमेशा करना है।

- डा. मीरा बघेल, सीएमएचओ, जिला-रायपुर

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस