Crime News In Raipur: रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नौकरी लगवाने के नाम पर बेरोजगारों से 35 लाख रुपये से भी अधिक की ठगी करने वाले आरसीडीएसपी कंपनी के चार डायरेक्टरों चंद्रप्रताप सिंह, जितेंद्र देवांगन, दीपचंद वर्मा और संजय कुमार को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया।

रायपुर के डीडी नगर थाने में 59 लोगों ने शिकायत दर्ज करवाई थी। पुलिस अब कंपनी के नाम से संचालित बैंक खाता और आरोपितों के सभी पर्सनल बैंक खातों की जानकारी बैंक से एकत्रित कर रही है। हम बता दें कि नईदुनिया ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

डीडी नगर थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से सुरक्षा निधि के रूप मे नकदी और आनलाइन के जरिए 35 हजार रुपये कंपनी के खातों में और डायरेक्टरों ने अपने पर्सनल खातों में जमा करवाए थे। जनवरी में 2021 में फर्जी तरीके से आनलाइन वेबसाइट के माध्यम से वैंकेंसी फार्म निकाल कर लोगों के साथ दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी की गई।

कंपनी की ओर से ब्लाक फील्ड आफिसर, कंप्यूटर टीचर, जिला अधिकारी के पद पर वैकेंसी निकाली गई थी। वेबसाइट पर दिए गए लिंक पर युवक और युवतियों ने नौकरी के लिए फार्म भरा। कंपनी द्वारा अविरल कांप्लेक्स में साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता था, जहां पर उन्हें बेसिक कंप्यूटर शिक्षा से संबधित जानकारी दी जाती थी। इसके बाद उन्हें नौकरी दिलाने का लगातार झांसा दिया जाता था।

अन्य की जांच जारी

मामले में मुख्य आरोपितों के अलावा कर्मचारियों की भूमिका संदिग्ध है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जांच में आरोप सही पाया गया तो अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें भी आरोपित बनाया जाएगा।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local