रायपुर। Spiritual News: मकर संक्रांति के पर्व पर राजधानी में नंदी तालाबों को घाटों पर सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। इस मौके पर श्रद्धालुओं ने भगवान सूर्य को अर्घ्य देकर खुशहाली और सुख, समृद्धि की कामना की। गौरतलब है कि मकर संक्रांति पर्व को देखते हुए नगर निगम आमला ने बूढ़ा तालाब महाराज तालाब, खारून नदी घाट को इसे साफ सफाई का काम पहले ही कर दिया था।

इधर, ठंड के मौसम होने के बाद भी श्रद्धालु में मकर संक्रांति पर्व को लेकर विशेष उत्साह देखने को मिला। खारून नदी पर आए श्रद्धालुओं ने बताया कि यह त्योहार भगवान सूर्य को समर्पित है। देखते हुए आज प्रदेश सहित देश की खुशहाली की कामना की।

टाटीबंध अय्यप्पा मंदिर में जलेंगे हजारों दीप

केरल की तर्ज पर राजधानी स्थित अय्यप्पा मंदिर में केरला समाज के द्वारा आज हजारों दीपदान करेंगे। इसकी तैयारी मंदिर प्रशासन ने पूरी तरह से कर ली गई। बता दें कि यह पर्व विशेष रूप से दक्षिण भारत में काफी धूमधाम से मनाया जाता है। राजधानी में मैं भी दक्षिण भारत के लोग बड़ी संख्या में निवास करते हैं।

ऐसा था मकर संक्रांति का संयोग

मकर संक्रांति पर इस बार पंचग्रही योग का संयोग है। गुरुवार को सुबह 8.15 बजे सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश किया है। इसके बाद पूरा दिन दान करने के लिए श्रेष्ठ है। इस दिन सूर्य, चंद्र, बुध, गुरु, शनि मकर राशि में रहेंगे। इन ग्रहों के प्रभाव से देश भर में भय, रोग, प्राकृतिक विपदा के साथ ही राजनीतिक उथल-पुथल का माहौल बने रहने की आशंका है।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस