रायपुर (राज्य ब्यूरो)। एक नवंबर को छत्तीसगढ़ 18 साल का हो गया। बालिग छत्तीसगढ़ में 40 फीसदी वोटर युवा हैं। यही नहीं, 25 लाख वोटर पहली बार अपनी सरकार चुनने जा रहे हैं। इस बीच, पहले चरण की 18 विधानसभा में जब उम्मीदवारों की औसत आयु देखी गई, तो वह भी युवा ही निकलकर आई। चुनाव मैदान में 187 उम्मीदवारों में 36 फीसदी उम्मीदवारों की आयु 25 से 40 वर्ष के बीच है। 31 से 40 वर्ष आयु वाले 50 और 41 से 50 आयु वर्ग वाले 66 उम्मीदवार मैदान में ताल ठोंक रहे हैं। राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो प्रदेश में युवाओं का राजनीति में स्र्झान बढ़ा है और वे चुनावी राजनीति के माध्यम से बदलाव की चाह रखते हैं।

50 उम्मीदवार 12वीं पास

छत्तीसगढ़ इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म ने पहले चरण के 190 में से 187 उम्मीदवारों के शपथ पत्रों का विश्लेषण किया। बस्तर और राजनांदगांव के आदिवासी क्षेत्र में हो रहे चुनाव में उम्मीदवारों की शिक्षा का विश्लेषण किया गया तो पता चला कि 12वीं पास 50, पोस्ट ग्रेज्यूएट 35 और आठवीं पास 31 उम्मीदवार मैदान में हैं। पांच उम्मीदवार सिर्फ शिक्षित हैं, तो 10 उम्मीदवार पाचवीं पास हैं। पहले चरण में 42 करोड़पति हैं, जिसमें कांग्रेस और भाजपा के 72 फीसदी, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के 40 फीसदी उम्मीदवार शामिल हैं। उम्मीदवारों की औसत संपत्ति एक करोड़ 42 लाख स्र्पए हैं। कांग्रेस उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 2.90 करोड़ और भाजपा उम्मीदवारों की 2.12 करोड़ है।

संपत्ति में रमन से आगे देवव्रत व मरकाम

पहले चरण के सबसे अमीर नेताओं में डॉ रमन सिंह से देवव्रत सिंह और मोहन मरकाम आगे हैं। राजपरिवार के देवव्रत सबसे अमीर तो हैं, लेकिन इनकम टैक्स सबसे ज्यादा डॉ रमन जमा करते हैं। सबसे ज्यादा आयकर जमा करने वाले डॉ रमन सिंह के का मुकाबला सबसे कम आय वाली प्रतिमा वासनिक से है। वहीं सबसे ज्यादा संपत्ति वाले देवव्रत के खिलाफ महेश लोधी खैरागढ़ के मैदान में हैं। चुनावी मैदान में सबसे अमीर महिला उम्मीदवार दंतेवाड़ा के कांग्रेस नेता स्वर्गीय महेंद्र कर्मा की पत्नी देवती कर्मा हैं। देवती के पास नौ करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है। कोंटा से कांग्रेस उम्मीदवार कवासी लखमा के पास एक करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है, लेकिन वे आयकर जमा नहीं करते हैं।

कांग्रेस के 39, जकांछ के 30 फीसदी उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले

पहले चरण के 187 में 15 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। आठ फीसदी उम्मीदवारों ने गंभीर आपराधिक मामले घोषित किये हैं। इसमें रिश्वतखोरी, हत्या के प्रयास जैसा मामला दर्ज है। कांग्रेस के 39 फीसदी, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के 30 फीसदी उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। पहले चरण में केवल एक विधानसभा जगदलपुर है,जहां तीन उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले हैं।

फैक्ट फाइल

सबसे कम संपत्ति

उम्मीदवार-विधानसभा-संपत्ति

प्रतिमा वासनिक-राजनांदगांव-1200

महेश लोधी-खैरागढ़-2500

डमस्र्धर कश्यप-चित्रकोट-5000

सबसे अधिक संपत्ति

उम्मीदवार-विधानसभा-संपत्ति

देवव्रत सिंह-खैरागढ़-119 करोड़

मोहन मरकाम-कोंडागांव-11 करोड़

डॉ रमन सिंह-राजनांदगांव-10 करोड़

फैक्ट फाइल

8 फीसदी आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवार

4 फीसदी गंभीर आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवार

22 फीसदी करोड़पति उम्मीदवार

1.42 करोड़ है उम्मीदवारों की औसत संपत्ति

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close