रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी रायपुर के भाजपा पार्षद और नगर निगम के उपनेता प्रतिपक्ष मनोज वर्मा एक बार फिर से विवादों में घिर गए है। इस बार उन पर एक स्कूली बच्चे की डंडे से मारपीट कर स्वजनों को फोन पर धमकाने का आरोप लगा है। धमकाने का आडियो इंटरनेट मीडिया में वायरल होते ही शहर जिला कांग्रेस कमेटी के साथ कांग्रेस पार्षद दल ने उपनेता प्रतिपक्ष के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। बुधवार को मामले में एफआइआर दर्ज करने एसएसपी को ज्ञापन सौंपा गया। कांग्रेसजनों ने घायल बच्चे का डाक्टरी मुलाहिजा करवाने और पीड़ित परिवार को सुरक्षा प्रदान करने की मांग की है।

यह घटना भाठागांव दशहरा मैदान की है। राधेश्याम चक्रधारी के 16 वर्षीय बेटे दीपक चक्रधारी को पार्षद मनोज वर्मा ने बांस के डंडे से मारने के साथ ही गाली-गलौज कर स्वजनों को फोन पर अभ्रद व्यवहार करते हुए धमकाया। धमकाने का आडियो इंटरनेट मीडिया में वायरल होते ही कांग्रेस पार्षदों ने मनोज वर्मा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

बुधवार को शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश दुबे, महापौर एजाज ढेबर, सभापति प्रमोद दुबे के नेतृत्व में कांग्रेस पार्षदों ने एसएसपी प्रशांत अग्रवाल को ज्ञापन सौंपकर मनोज वर्मा के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने की मांग की। ज्ञापन सौंपने गए प्रतिनिधिमंडल में निगम के एमआइसी सदस्य ज्ञानेश शर्मा, श्रीकुमार मेनन, सुंदर लाल जोगी,समीर अख्तर, सतनाम सिंह पनाग, आकाश तिवारी, सहदेव व्यवहार, जितेंद्र अग्रवाल, जोन अध्यक्ष घनश्याम छत्री, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष प्रशांत ठेंगड़ी,पार्षद वीरेंद्र देवांगन आदि शामिल थे।

ऑडियो में स्वीकारा, हां-सबक सिखाने के लिए मारा

वायरल आडियो में पार्षद मनोज वर्मा स्कूली बच्चे को गाली देते हुए रावणभाठा को अपना बताते हुए दोबारा मैदान में आने पर टांग तोड़ देने की बात कह रहे है। यह भी कह रहे है कि मेरे बारे में अपने पिता से पूछ लेना कौन हूं। पार्षद स्वजनों से बात करते हुए सबक सिखाने बच्चे की पिटाई करना भी स्वीकार कर रहे है। गौरतलब है कि इससे पहले मनोज वर्मा निगम मुख्यालय में पत्रकारों से बदसलूकी करने के मामले में चर्चा में आ चुके है। इस संबंध में उनका पक्ष जानने कई बार काल किया गया, लेकिन उन्होंने फोन रीसिव नहीं किया। वहीं बच्चे के पिता राधेश्याम चक्रधारी ने बाद में बात करने को कहकर फोन काट दिया।

सहमे हैं स्वजन

बच्चे की पिटाई से शरीर में चोट आई है। इस घटना से स्वजन डरे व सहमे हुए है। कांग्रेस का आरोप है कि पीड़ित परिवार की एफआइआर पुलिस थाने में नहीं लिखी जा रही है। स्वजनों को सुरक्षा प्रदान कर तत्काल मनोज वर्मा पर मारपीट का केस दर्ज करने को कहा है।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local