रायपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने गुजरात में भारतीय जनता पार्टी की जीत को ऐतिहासिक जीत करार दिया है। उन्होंने कहा कि गुजरात में लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों को वोट दिया है। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने छत्तीसगढ़ में प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) और सेंट्रल आईटी की ताबड़तोड़ कार्रवाई के बीच बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से भ्रष्टाचार हो रहा है, उस पर पूरी तरह से ईडी और आईटी की नजर है। उपचुनाव में बीजेपी की हार पर पूर्व सीएम रमन सिंह ने कहा कि उपचुनाव तो उपचुनाव होता है। यह स्थानीय मुद्दों पर लड़ा जाता है। कोई प्रदेश के मुद्दों पर नहीं लड़ा गया है।

डा. रमन सिंह ने अपने रायपुर से निवास में मीडिया कर्मियों से चर्चा करते हुए कहा कि सेंट्रल एजेंसियों की टीमें यहां आ नहीं रही, बल्कि यहां बैठी हुई हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में जिस तरह से भ्रष्टाचार हो रहा है, उस पर पूरी तरह से ईडी और आईटी की नजर है। ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने कहा है कि दोषी और भ्रष्टाचारी किसी भी हाल में बख्शे नहीं जाएंगे, बल्कि समय के साथ सबका पर्दाफाश होगा।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि

"जहां-जहां करप्शन हैं, वहीं ईडी (ED) जाएगी। जहां गुड़ है, मक्खी वहीं जाएगी। उन्होंने कहा कि ‘छत्तीसगढ़ में ईडी और आईटी की टीमें आई नहीं हैं बल्कि स्थाई रूप से यहां बैठी हुई हैं। ईडी (ED) और आईटी (IT) की कार्रवाई अभी शुरू हुई है। जो-जो लोग करप्शन में लिप्त हैं। जो लोग कम्बल ओढ़कर बैठे हुए हैं, जिन लोगों के हाथ और चेहरे कोयले से रंगे हैं, वो लोग बचेंगे नहीं, उन सब पर कार्रवाई होगी।"

गौरतलब है कि बीते कुछ महीनों से प्रदेश में ईडी की टीम जांच में जुटी हुई है। प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) ने आइएएस समीर बिश्नोई के यहां छापा मारकर 47 लाख रुपए नकद और दो करोड़ रुपए के गहने बरामद किए थे। उसके बाद 13 अक्टूबर को बिश्नोई को गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद कोयला कारोबारी सुनील अग्रवाल, लक्ष्मीकांत तिवारी और सूर्यकांत तिवारी की गिरफ्तारी की गई। वहीं मनी लांड्रिंग और कोयला घोटाले के मामले में आरोपित बनाए गए आईएएस समीर विश्नोई, लक्ष्मीकांत तिवारी, सुशील अग्रवाल जेल में बंद हैं। जिसकी पेशी 10 दिसंबर को होगी है।

Posted By: Vinita Sinha

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close