रायपुर। Nautapa 2021: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसी मान्यता है कि जब सूर्य, रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करता है, तब नौतपा की शुरुआत होती है। इसके अगले नौ दिनों तक ग्रह नक्षत्रों के प्रभाव से सूर्य की किरणें अपना प्रचंड प्रभाव दिखाती हैं और तेज गर्मी पड़ती है। ज्योतिष की मानें तो इस साल 25 मई को सूर्य, रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश कर रहा है और इसके पश्चात दो जून तक विविध नक्षत्रों के प्रभाव से तेज गर्मी पड़ेगी। तेज गर्मी पड़ने से आने वाले मानसून में बेहतर वर्षा होगी। देश के उत्तर पूर्वी इलाकों में बाढ़ की संभावना भी जताई जा रही है।

औसत से अधिक बारिश की संभावना

ज्योतिषाचार्य डॉ.दत्तात्रेय होस्केरे के अनुसार सूर्य, जब भी रोहिणी नक्षत्र मं प्रवेश करता है, इसके पश्चात के नौ दिनों को नौतपा कहा जाता है। इसका कारण यह है कि रोहिणी नक्षत्र चंद्र प्रधान नमीयुक्त नक्षत्र है, जब भी सूर्य, रोहिणी नक्षत्र में अवस्थित होता है तो तीव्र उष्मा विकरित करता है। इसके प्रभाव से तापमान का बढ़ना, बादलों का आना, तेज गर्म हवाओं का चलना जैसी घटनाएं होती हैं।

इस साल 25 मई को सुबह 8.45 बजे सूर्य रोहिणी में प्रवेश करेगा। इस दौरान तेज गर्मी पड़ेगी। ये नौ दिन आने वाले मानसून का भी निर्धारण करेंगे कि वर्षा कैसी होगी। जब भी नौतपा में तेज गर्मी पड़ती है, तो मानसून के मौसम में अच्छी वर्षा होती है। ग्रह नक्षत्र संकेत दे रहे हैं कि आने वाले नौ दिन तेज गर्मी पड़ेगी। इस वजह से इस साल औसत से अधिक बारिश होगी।

22 जून से देशभर में छा जाएगा मानसून

सूर्य रोहिणी नक्षत्र में आठ जून को सुबह 6.40 बजे तक रहेगा। इसके बाद मृगशिरा नक्षत्र में प्रवेश कर जाएगा। इसके पश्चात 22 जून को सूर्य सुबह 5.37 बजे आद्रा नक्षत्र में प्रवेश करेगा। ज्योतिष गणना के अनुसार जब भी सूर्य, आद्रा नक्षत्र में प्रवेश करता है तब संपूर्ण आकाश मंडल में बादल छा जाते हैं।

इस दिन से भारत के अनेक इलाकाें में मानसून छा जाएगा। हालांकि मानसून की शुरुआत इसके पांच दिन पहले ही हो जाएगी लेकिन अच्छी बारिश 22 जून के बाद होगी। पूरे मानसून के मौसम में 57 से 65 दिन तक अच्छी बारिश होगी।

नौ दिनों में ग्रह नक्षत्र और मौसम का प्रभाव

25 मई - राहु प्रधान स्वाति नक्षत्र - तीव्र उष्मा, तेज गर्मी

26 मई - शनि प्रधान अनुराधा नक्षत्र - तेज गर्मी, गर्म हवाएं

27 मई - बुध प्रधान ज्येष्ठा नक्षत्र - सामान्य से ज्यादा गर्मी

28 मई - केतु प्रधान मूल नक्षत्र - तीव्र गर्मी और उमस

29 मई - शुक्र प्रधान पूर्वा षाढ़ा नक्षत्र - तेज गर्मी

30 मई - सूर्य प्रधान उत्तरा षाढ़ा नक्षत्र - तेज गर्मी, चिलचिलाती धूप

31 मई - चंद्र प्रधान श्रवण नक्षत्र - उमस, गरज के साथ छींटे

01 जून - मंगल प्रधान धनिष्ठा नक्षत्र - तेज गर्मी

02 जून - राहु प्रधान शतभिषा नक्षत्र - तेज गर्मी, सायंकालीन बारिश

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags