रायपुर। छत्तीसगढ़ में किसानों से अब तक 49 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है। धान उपार्जन केंद्रों से अब तक 23 लाख तीन हजार 313 मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग किया जा चुका है। पंजीकृत मिलरों को उपार्जन केंद्रों से धान उठाने के लिए 26 लाख सात हजार 476 मीट्रिक टन धान का डीओ जारी कर दिया गया है। वहीं, धान बेचने वाले किसानों को आठ हजार 61 करोड़ रुपए का भुगतान सीधे उनके बैंक खातों में किया गया है। खाद्य विभाग के अकिारियों ने बताया कि प्रदेश के बस्तर जिले में 24 हजार 979 मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग किया गया है।

इसी प्रकार बीजापुर जिले में 342 मीट्रिक टन धान, दंतेवाडा जिले में 712 मीट्रिक टन, कांकेर जिले में 65 हजार 421 मीट्रिक टन, कोंडागांव जिले में 23 हजार 962 मीट्रिक टन, नारायणपुर में एक हजार 626 मीट्रिक टन, सुकमा में तीन हजार 586 मीट्रिक टन, बिलासपुर जिले में एक लाख 82 हजार 974 मीट्रिक टन, जांजगीर-चांपा में दो लाख 33 हजार 827 मीट्रिक टन, कोरबा में 32 हजार 834 मीट्रिक टन, मुंगेली जिले में 64 हजार 551 मीट्रिक टन, रायगढ़ जिले में एक लाख 86 हजार 865 मीट्रिक टन, बालोद में 97 हजार 512 मीट्रिक टन, बेमेतरा जिले में 71 हजार 201 मीट्रिक टन और दुर्ग जिले में एक लाख 54 हजार 197 मीट्रिक टन धान का उठाव मिलरों द्वारा किया गया है।

कबीराम जिले में 43 हजार 620 मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग हो चुका है। राजनांदगांव जिले में एक लाख 22 हजार 650 मीट्रिक टन, बलौदाबाजार में 90 हजार 988 मीट्रिक टन, मतरी में एक लाख 68 हजार 120 मीट्रिक टन, गरियाबंद में 49 हजार 313 मीट्रिक टन, महासमुंद में दो लाख चार हजार 138 मीट्रिक टन, रायपुर जिले में दो लाख 70 हजार 197 मीट्रिक टन, बलरामपुर में 39 हजार 402 मीट्रिक टन, जशपुर जिले में 32 हजार 637 मीट्रिक टन, कोरिया जिले में 33 हजार 639 मीट्रिक टन, सरगुजा जिले में 51 हजार 257 मीट्रिक टन और सूरजपुर जिले में 52 हजार 804 मीट्रिक टन धान का उठाव उपार्जन केंद्रों से मिलरों द्वारा किया गया है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020