महासमुंद/रायपुर। महासमुंद जिले के सिरपुर क्षेत्र के गांव लहंगर में तीन दंतैल हाथियों के प्रवेश कर जाने से ग्रामीण दहशत में हैं। घबराए ग्रामीण छत पर चढ़कर हाथियों के जंगल की ओर लौटने का इंतजार कर रहे हैं। गांव की गली में हाथियों के विचरण से बच्चे-बड़े सभी दहशत में हैं।

हाथी भगाओ-फसल बचाओ समिति के संयोजक राधेलाल सिन्हा ने बताया कि शाम ढलते ही छह बजे तीन दंतैल हाथी उनके गांव की गलियों में प्रवेश कर गए। गांव में हाथी की धमक की सूचना मिलते ही वन विभाग को सूचित किया गया। गजराज वाहन से मदद की अपील की गई। जब तक वन विभाग का अमला पहुंचता, हाथी गांव की गलियों में स्वच्छंद विचरण करने लगे। इससे घबराए ग्रामीण अपने-अपने छतों पर चढ़कर हाथी के जंगल की ओर जाने का इंतजार करने लगे। अंधेरा होने के साथ ही हाथी पास के जंगल की ओर बढ़े हैं। इससे ग्रामीण दहशत में हैं कि रात में हाथी दोबारा गांव में प्रवेश कर गए तब क्या होगा?

हाथियों के आ धमकने से पिरदा से सिरपुर जाने के रास्ते पर आवागमन कुछ देर के लिए थम सा गया था। इधर, 17 हाथियों का दल बंदोरा क्षेत्र में विचरण कर रहे हैं। सिरपुर क्षेत्र के गांवों में किसानों की फसल को हाथियों द्वारा रोज-रोज रौंदकर नुकसान पहुंचाने से किसान पहले से ही परेशान हैं। अब गांव में हाथियों के दल से प्रवेश कर जाने से दहशत में जी रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network