रायपुर। 'ये इंजेक्शन लो और दवा खाओ। इससे तुम्हारी भी मेरी जैसी बॉडी हो जाएगी। इसके बाद तुम वर्ल्ड चैंपियनशिप में कमाल दिखा सकते हो।' समता कॉलोनी में जिम संचालित करने वाले एक युवक को यह कहकर कथित रूप से जहरीली दवा खिलाई जाती रही और इंजेक्शन लगाया जाता रहा। इससे उसकी हालत बिगड़ गई। उसे गंभीर अवस्था में निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। राजधानी में अपनी तरह का यह पहला मामला सामने आया है। पिता की शिकायत पर आजाद चौक पुलिस ने मिस्टर छत्तीसगढ़ रहे आरोपित जिम प्रशिक्षक सुमित राय चौधरी को खमतराई से गिरफ्तार कर लिया, जबकि दवा सप्लाई करने वाले मुंबई के सप्लायर नीलेश परमार की तलाश की जा रही है। दोनों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया गया है।

आजाद चौक पुलिस के मुताबिक मकान नंबर 5, हर्षित इंक्लेव, महोबा बाजार (हीरापुर) निवासी रियल स्टेट कारोबारी मोहन सिंह ठाकुर (50) ने शिकायत दर्ज कराई कि उनका बेटा संदीप सिंह ठाकुर (23) जिम संचालित करने के साथ बॉडी बिल्डर का काम करता है। पिछले 15 दिनों से उसकी तबीयत खराब है। दो दिन पहले हालत बिगड़ने पर उसे निजी अस्पताल के आइसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया। डॉक्टर ने आंतरिक रूप से बीमार होने की वजह से हालत बिगड़ते देख आइसीयू में रखा है। मोहन सिंह ठाकुर ने बताया कि खमतराई के बॉडी बिल्डर मिस्टर छत्तीसगढ़ रहे जिम प्रशिक्षक सुमित राय चौधरी और मुंबई के नीलेश परमार मेरे पुत्र को बाडी बिल्डर का चैम्पियन बनाने के लिए जहरीली दवा, नशीला इंजेक्शन और टेबलेट को शक्तिवर्धक बताते हुए बिना किसी डॉक्टरी सलाह के पिछले तीन माह से सेवन कराते आ रहे थे। यह इंजेक्शन सुमित राय चौधरी और नीलेश परमार की सलाह पर संदीप को लगाया गया। मिस्टर छत्तीसगढ़ रहे जिम प्रशिक्षक सुमित राय यह दवा मुंबई निवासी नीलेश परमार से मंगवाता था।

सुमित राय चौधरी एक अगस्त से नौ नवंबर तक एक कोर्स की तरह संदीप को समता कालोनी में आकर इंजेक्शन लगाता था। उपयोग में लाए गए टेबलेट और इंजेक्शन को जिम स्थित डोज बेडरूम में बैग में ही उसने रखा था। पिता का आरोप है कि सुमित राय चौधरी लगातार जहरीला इंजेक्शन और नशीली दवा संदीप को सेवन कराते कराता आ रहा था, जिससे उसका स्वास्थ्य बिगड़ गया। अभी वह जीवन और मृत्यु के बीच संघर्ष कर रहा है। पुलिस ने मामले में दोनों आरोपितों के खिलाफ धारा 308,326,34 के तहत अपराध कायम कर लिया।

प्रशिक्षक के घर से नशीली दवा, इंजेक्शन जब्त

शिकायत मिलने पर पुलिस ने जिम प्रशिक्षक सुमित राय चौधरी को खमतराई स्थित घर में दबिश देकर वहां से नशीली दवा और इंजेक्शन जब्त किया है। मौके से सुमित राय को गिरफ्तार कर लिया गया। प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ कि शहर के जिम में आने वाले युवाओं को बॉडी और मसल्स हैवी बनाने शक्तिवर्धक स्टेरॉयड्स और जहरीली दवाओं का सेवन बिना डॉक्टरी सलाह के कराया जाता है। सुमित और नीलेश जिम संचालकों को जहरीली दवा और इंजेक्शन सप्लाई करने के साथ ही उनका सेवन युवाओं को करने की सलाह देते हैं। सीएसपी नसर सिद्दिकी ने बताया कि मामले की बारीकी से जांच की जा रही है। शुरुआती पूछताछ में गिरफ्तार आरोपित सुमित राय चौधरी ने बताया कि वह ये दवा और इंजेक्शन मुंबई के नीलेश परमार से मंगाता था। जिम में कसरत कर पसीना बहाने वाले युवाओं को सुमित खुद इंजेक्शन लगाता था। अस्पताल से संदीप सिंह ठाकुर की मेडिकल रिपोर्ट का पुलिस इंतजार कर रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network