रायपुर। रायपुर कोर्ट में कार्यरत अभिलेखापाल से लगभग दो लाख की ठगी करने का मामला सामने आया है। इस मामले की शिकायत अभिलेखापाल ने सिविल लाइन थाने में की है। अभिलेखापाल ने पुलिस को बताया कि 15 से 20 दिन पूर्व मेरे मोबाइल पर 7000421097 और 9406400008 पर स्टेट बैंक बैरन बाजार शाखा से आकाश ठाकुर, जिसका मोबाइल नंबर 9131321127 से काल आया कि आप हमारे यहां कस्टमर हैंं। आपका यहां पर एकाउंट है, आपके नाम पर क्रेडिट कार्ड आया हुआ है। इस पर प्रार्थी अपनी सहमति देते हुए शातिर के झांसे में आ गया। ओटीपी बताते ही खाते से एक लाख 92 हजार रुपये खाते से निकल गए। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस जांच में जुट गई है। वहीं अज्ञात आरोपित के खिलाफ धारा 420 के तहत केस दर्ज किया है।

नौकरानी ने संपत्ति हड़पने शादी का बनाया फर्जी दस्तावेज, जुर्म दर्ज

राजधानी रायपुर के गुढ़ियारी थाना अंतर्गत शादी का फर्जी दस्तावेज तैयार कर संपत्ति हड़पने का मामला सामने आया है। मृतक की मां की शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपित महिला के खिलाफ धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज कर महिला की तलाश में जुट गई है।

गुढ़ियारी पुलिस थाने से मिली जानकारी के अनुसार गुढ़ियारी निवारी प्रार्थिया उषा अग्रवाल का बड़ा बेटा राकेश अग्रवाल (61) अविवाहित था और वह परिवार से अलग रहता था। वह घरेलू काम काज करने के लिए एक नौकरानी रखा था। राकेश अग्रवाल की 21 अप्रैल 2021 को कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हो गई।

मौत के बाद नौकरानी ने फर्जी तरीके से राकेश के साथ विवाह का दस्तावेज तैयार कर संपत्ति को हड़पना का प्रयास कर रही थी इसी दौरान मृतक की माता को इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने महिला के खिलाफ गुढ़ियारी पुलिस थाने में अपराध दर्ज कराया है।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local