Cricket : रायपुर। अभनपुर इलाके के गातापार मैदान में चल रही क्रिकेट प्रतियोगिता के क्वाटर फाइनल मैच के दौरान अंपायर के द्वारा एक खिलाड़ी को रन आउट देने से नाराज बेलभाठा की टीम ने गलत निर्णय देने का आरोप लगाकर अंपायर समेत तीन चार फील्डरांे की बल्ला, स्टंप और बाल्टी से दौड़ा-दौड़ाकर पिटाई कर दी। इस घटना में दोनों पक्ष के छह लोगों को चोटें आई है। घटना गुरूवार की शाम की है। दोनों पक्षों की शिकायत पर पुलिस ने काउंटर केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल किसी भी खिलाड़ी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

अभनपुर थाना प्रभारी बोधनराम साहू ने बताया कि हाउसिंग बोर्ड कालोनी के पास गातापार मैदान में चल रही क्रिकेट प्रतियोगिता में गुरूवार को ग्राम बेलभाठा और ग्राम झांकी की टीम के बीच क्वाटर फाइनल मैच खेला जा रहा था। शाम 4.30 बजे बेटिंग कर रहे बेलभाठा की टीम के खिलाड़ी दिनेश टंडन को अंपायर राहुल सिंग ने रन आउट दिया ।

अंपायर के इस फैसले को गलत करार देते हुए बेलभाठा के खिलाड़ी संदीप बांदे समेत पप्पू टंडन, गब्बर, बंटी ने अंपायर राहुल सिंग से गाली-गलौज करना शुरू कर दिया। गाली देने से राहुल, अभिषेक टंडन और राहुल के भाई केवल सिंग ने मना किया तो बेलभाठा के खिलाड़ियों ने बल्ला, स्टंप और बाल्टी से सभी की पिटाई करना शुरू कर दिया।

इस बीच अंपायर का साथ देते हुए अंपायर की तरफ से दूसरे पक्ष के खिलाड़ियों ने भी जवाबी हमला किया। मारपीट के दौरान मैदान में अफरा-तफरी मच गई। प्रतियोगिता देखने आए आसपास के गांव के युवा भागने लगे। सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस पहुंची।

दोनों पक्षों के बीच हुई संदीप बांदे के हाथ, चेहरे, बंटी के चेहरे व गला और गब्बर भारती के सिर में चोट आई। वहीं अंपायर राहुल के बांए हाथ भुजा, अभिषेक को दाहिने तरफ पसली में और केवल सिंग को चेहरे में चोटें आई। देर रात संदीप बांदे की शिकायत पर पुलिस ने अपांयर राहुल सिंग, केवल सिंग, अभिषेक, सुनील के खिलाफ अपराध कायम कर लिया। वहीं अंपायर राहुल की रिपोर्ट पर बंटी, संदीप, पप्पू टंडन और गब्बर के खिलाफ केस दर्ज किया है।

सही था रन आउट का फैसला

अंपायर राहुल सिंग ने पुलिस को बताया कि बेलभांठा के खिलाडी दिनेश टंडन को रन आउट देने से नाराज होकर संदीप, पप्पू टंडन, गब्बर, बंटी ने गलत निर्णय दिए हो कहकर विवाद करने लगे। अभिषेक टंडन और भाई केवल सिंग ने खिलाड़ियों को समझाने की कोशिश की तो गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देकर हाथ मुक्के से मारपीट करने लगे। इस दौरान संदीप ने मुझे बेट से मारा। अभिषेक और केवल की भी पिटाई कर दी। अंपायर ने कहा कि रन आउट देने का फैसला सहीं था लेकिन बेलभाठा के खिलाड़ियों ने दबाव बनाने के लिए मारपीट की।

Posted By: Anandram Sahu

fantasy cricket
fantasy cricket