0 पीएससी से बाहर के पदों के लिए इसी साल होगी संयुक्त परीक्षा

0 राज्य शासन के विभिन्न विभागों में बाबुओं के दस हजार से ज्यादा पद खाली

नईदुनिया एक्सक्लूसिव

रायपुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

पीएससी से बाहर के पदों पर कर्मचारी के चयन के लिए राज्य में छत्तीसगढ़ कनिष्ठ सेवा (संयुक्त अर्हता) परीक्षा 2017 का आयोजन करने के लिए अब तक सिलेबस तय नहीं हो पाया है। इस परीक्षा की रूपरेखा तय करने के लिए विभागों को अभिमत देना है। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) ने मार्च में सभी विभागों को पत्र लिखकर अभिमत मांगा था, लेकिन इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी, नगरीय प्रशासन एवं विकास, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व, तकनीकी शिक्षा, वन, समाज कल्याण और वाणिज्यिक कर विभाग को छोड़ बाकी विभागों ने अभिमत नहीं दिया। अब जीएडी ने एक बार फिर विभागों को पत्र लिखा है और तत्काल अभिमत देने को कहा है।

गौरतलब है कि राज्य शासन के विभिन्न विभागों में बाबुओं के दस हजार से ज्यादा पद रिक्त हैं। इससे दफ्तरों का काम तो प्रभावित हो ही रहा है, आम जनता को भी तकलीफ उठानी पड़ रही है। इसे देखते हुए सरकार ने विभिन्न विभागों में सीधी भर्ती के पदों के लिए इस परीक्षा की योजना बनाई है। मार्च में इस संबंध में नियम जारी कर इसमें सभी विभागों का अभिमत मांगा गया था। संयुक्त परीक्षा का आयोजन छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल से कराने का प्रस्ताव है। परीक्षा छह समूहों में आयोजित की जाएगी। समूह एक में सहायक संचालक, मंडी सचिव, सहायक सांख्यिकी अधिकारी, वरिष्ठ अनुसंधान सहायक जैसे पद हैं। इनके लिए स्नातकोत्तर अभ्यर्थी पात्र होंगे। दूसरे समूह में सहायक कृषि विस्तार अधिकारी, कनिष्ठ अंकेक्षक, लेखापाल, ऑडिटर, औषधि निरीक्षक आदि पद हैं। इनकी अर्हता स्नातक मांगी जाएगी। तीसरे से छठवें समूह में उप अभियंता, राजस्व निरीक्षक, सर्वेयर, स्टेनो टाइपिस्ट, कम्प्यूटर ऑपरेटर, इलेक्ट्रीशियन, रोकड़िया, लैब टेक्नीशियन, सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी, लैब असिस्टेंट, कर्मशाला निदेशक आदि पद रखे गए हैं। इन पदों की अर्हता 12वीं रखी गई है। संयुक्त अर्हता परीक्षा का आयोजन इसी साल किया जाना है।

चुनावी साल में निकलेगी बंपर वेकेंसी-

जीएडी के अफसरों ने बताया कि प्रदेश में रिक्त पड़े पदों पर आगामी विधानसभा चुनाव के पहले भर्ती करने की योजना है। इसके लिए संयुक्त अर्हता परीक्षा कराने का प्रस्ताव है। एक परीक्षा से सभी विभागों के लिए अर्हता तय हो जाएगी फिर विभागवार भर्ती की जाएगी। बताया गया है कि चुनावी साल में हजारों पदों पर भर्ती होनी है।

वर्सन-

छत्तीसगढ़ कनिष्ठ सेवा संयुक्त अर्हता परीक्षा 2017 का नियम बना है जिसे अंतिम रूप दिया जाना है। विभागों से अभिमत मांगा गया है।

-एमआर ठाकुर, उप सचिव, जीएडी

23 अनिल 01- संतोष

7.05

Posted By: