रायपुर। Bullion Market: अंतरराष्ट्रीय मार्केट के प्रभाव से सोने-चांदी की कीमतों में शुक्रवार को जबरदस्त उतार-चढ़ाव भरा रहा। दोपहर 12 बजे आठ माह बाद सोना 48 हजार के स्तर से नीचे आया था,लेकिन शाम होते-होते सोने की चमक वापस तेज हो गई। शुक्रवार शाम रायपुर सराफा बाजार में सोना प्रति 10 ग्राम (स्टैंडर्ड) 48500 रुपये और चांदी भी सुबह की तुलना में 300 रुपये उछलकर 70,500 रुपये प्रति किलो हो गई।

सराफा विशेषज्ञों का कहना है कि इस प्रकार से दोनों कीमती धातुओं में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। आने वाले दिनों में भी इनमें ऐसा ही रुख देखने को मिलेगा। आम बजट में हुए आयात शुल्क में कमी के कारण सोने की कीमतें अब गिरने लगी हैं। फरवरी में इसकी कीमतों में गिरावट ही आई है।

सराफा बाजार में अभी भी सन्नाटा

कीमतों में उतार-चढ़ाव का असर कारोबार पर नहीं पड़ रहा है। सराफा कारोबारियों का कहना है कि अभी भी सराफा बाजार में सन्नाटा पसरा हुआ है। हालांकि, संस्थानों में ग्राहकों की पसंद के अनुसार पारंपरिक और नए फैशनेबल गहनों की रेंज है। कारोबारियोंं का कहना है कि गहनों की यह नई रेंज ग्राहकों को काफी पसंद आएगी।

20 कैरेट को मिले हालमार्किंग की मान्यता

सराफा कारोबारियों का कहना है कि ग्राहकों द्वारा 20 कैरेट के आभूषण ही काफी पसंद किए जाते हैं। 20 कैरेट के गहने मजबूत होने के साथ ही लोगों के बजट में भी होते हैं। इसके चलते ही काफी पसंद भी किए जाते हैं। रायपुर सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष हरख मालू ने बताया कि इसके लिए प्रधानमंत्री को भी पत्र लिखा गया है।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags