रायपुर। राज्य ब्यूरो। त्योहारों और सार्वजनिक उत्सवों को देखते हुए राज्य सरकार ने दिशा-निर्देश जारी किया है। इसके तहत प्लास्टर आफ पेरिस व अन्य प्रतिबंधित सामग्री से बनी मूर्तियों पर रोक लगाई गई है। जल को दूषित होने से बचाने के लिए ऐसी मूर्तियों के नदियों में विसर्जन पर रोक लगाई गई है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीज, गणेश विसर्जन, दुर्गा पूजा, पितृमोक्ष अमावस्या के मद्देनजर व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। इसके तहत तालाबों और घाटों पर विसर्जन के पूर्व पूजन सामग्री को अलग-अलग कर उपयुक्त स्थल पर रखा जाएगा। मुख्यमंत्री ने तालाबों, घाटों पर साफ-सफाई की व्यवस्था, ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव, फागिंग, शुद्ध पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के भीनिर्देश दिए हैं।

नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा कलेक्टरों, नगर निगम आयुक्तों और मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को पत्र लिखकर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। ध्वनि प्रदूषण पर नियंत्रण रखने के लिए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन से समन्वय स्थापित कर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

आयोजन स्थलों के पास मोबाइल मेडिकल यूनिट की व्यवस्था की जाएगी। मूर्ति विसर्जन के लिए रूट का चयन न्यूनतम यातायात बाधा के आधार पर किया जाएगा। आयोजन स्थलों पर आवश्यक प्रकाश की व्यवस्था होगी। संपूर्ण शहर में छुट्टा मवेशियों को पकड़कर कांजी हाऊस में भेजने की व्यवस्था करने का निर्देश भी दिया गया है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close