रायपुर। राजधानी की एक महिला हस्तकला कारोबारी को गुजरात के पोरबंदर निवासी एक कारोबारी द्वारा सामान सप्लाई का झांसा देकर 2.76 लाख रुपये ठगने का मामला सामने आया है। ठगी की शिकार महिला की शिकायत पर देवेंद्र नगर पुलिस ने चार सौ बीसी का केस दर्ज कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक देवेन्द्र नगर सेक्टर दो, मकान नंबर सी-1/25 निवासी श्रीमती रंजीता अग्रवाल (49) अपने घर में फूल-माला व हस्तकला सामान बेचती है। 11 जून की रात रंजीता के मोबाइल पर 8000000894 नंबर से वाट्सएप के जरिए हस्तकला सामग्री का बेचने का मैसेज पोरबंदर, गुजरात के कारोबारी भिनाज मनोज भाई व्यास के नाम से आया।

किशोर का अपहरण कर महिला बनाती रही संबंध, यह हुआ अंजाम

चर्चा करने पर हस्तकला सामग्री की कुछ फोटो भेजी गई। दूसरे दिन ठग ने दूसरे नंबर 9820228869 से कॉल करके अपने आप को लंदन का बताकर झांसे में लिया। उसने क्रेता बनकर सामान की सप्लाई करने के लिए 90 हजार 900 रुपये का आर्डर दिया। महिला ने 12 जून से 17 जून 2019 के बीच 3 लाख 84 हजार रुपये के सामान सप्लाई करने का आर्डर दिया। इसके एवज में ठग ने अग्रिम पैसे की मांग की।

रिश्‍ते शर्मसार : जमीन के लिए पिता के किए टुकड़े, एक बेटा गिरफ्तार, दूसरा फरार

1.8 लाख का भेजा सामान, बाकी पैसा दबाया

ठगी की शिकार महिला रंजीता अग्रवाल ने बताया कि कारोबारी की बातों पर विश्वास करके उसने बताए गए आइसीआइसी बैंक पोरबंदर शाखा के खाते में पांच किस्तों में 3 लाख 84 हजार रुपये जमा किया था। इसके एवज में आरोपित भिनाज मनोज भाई व्यास द्वारा केवल 1 लाख 8 हजार रुपये का सामान सप्लाई किया गया।

बाकी 2 लाख 76 हजार रुपये का सामान नहीं भेजने पर महिला ने कई बार फोन पर सामान सप्लाई करने का निवेदन किया किंतु वह लगातार टालमटोल करने लगा। परेशान होकर महिला कारोबारी ने सोमवार की रात इसकी शिकायत देवेंद्र नगर थाने में दर्ज कराई। पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। फिलहाल आरोपित कारोबारी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

OMG : हर साल बढ़ जाती है इस शिवलिंग की ऊंचाई

जशपुरिया मिर्च : झन्नाट ऐसी कि मुंहमांगी कीमत दे रहे व्यापारी, देखें VIDEO

Posted By: Nai Dunia News Network