नईदुनिया खबर का असर

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी के आसपास के गांवों में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटरों में नियमों को धज्जियां उड़ने की खबर नईदुनिया में प्रकाशित होते ही प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग टीम को गांवों के लिए रवाना कर दी गई। जानकारी के अनुसार सुबह से ही टीम गांवों में पहुंचकर प्रवासी मजदूरों जांच की। उनके खाना, कूलर समेत कई जरूरी व्यवस्था की। कई सेंटरों में खाना बनाने और सफाई के लिए कर्मचारियों की नियमित ड्यूटी लगा दी गई है।

जामगांव क्वारंटाइन सेंटर में लगाया कूलर

अभनपुर ब्लॉक के ग्राम जामगांव की सरपंच रेखा केशनारायण ने बताया कि क्वारंटाइन सेंटर में बिस्तर, कूलर, पानी और खाने-पीने की सामग्री की व्यवस्था कर दी गई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने प्रवासी श्रमिकों के स्वास्थ्य की जांच की। श्रमिकों की देखरेख के लिए कर्मचारी भी नियुक्त कर रहे हैं।

निलजा में भी पहुंचा स्वास्थ्य अमला

ग्राम निलजा के सरपंच चंद्रशेखर वर्मा ने बताया कि क्वारंटाइन सेंटर में रविवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच करने के लिए पहुंची। रविवार को 17 और श्रमिकों को क्वारंटाइन में रखा गया। ये सभी ओडिशा से आए हैं। पहले से 19 लोग यहां क्वारंटाइन में हैं। प्रवासी श्रमिकों की बड़ी संख्या को देखते हुए प्रशासन व्यवस्था में लगा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर रही है।

पवनी में नहीं सुधारी व्यवस्था

ग्राम पंचायत पवनी में पांच लोग क्वाइंटन सेंटर में हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इनकी जांच नहीं की। इनकी देखभाल पंचायत और ग्रामीणों द्वारा किया की जा रही है। मालूम हो कि निलजा, जामगांव की तरह यहां भी स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई है। फिर स्वास्थ्य विभाग इन लोगों की जांच करना उचित नहीं समझ रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना