रायपुर। कोविड-19 की परिस्थितियों में प्रशिक्षित स्वास्थ्य कर्मचारी प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कौशल विकास के अंतर्गत छह नए अल्प अवधि के कोर्स लांच किए। यह कोर्स 26 राज्यों के 111 कौशल विकास केंद्रों के माध्यम से संचालित किए जाएंगे। इस कार्यक्रम में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, रायपुर ने भी भागीदारी की है। एम्स ने योजना का स्वागत करते हुए कहा है कि इससे प्रदेश में प्रशिक्षित स्वास्थ्य कर्मियों की कमी को पूरा करने में मदद मिलेगी।

दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने स्किल, री-स्किल और अप-स्किल का मंत्र देते हुए कहा कि कोविड-19 की विपरीत परिस्थितियों में नव स्थापित एम्स और नर्सिंग कालेजों ने भी महत्वपूर्ण योगदान दिया है। इस चुनौती में सभी ने अपनी क्षमताओं का विस्तार किया है। देशभर में 1500 आक्सीजन प्लांट लगाने और दूर-दराज के क्षेत्रों में भी वेंटीलेटर और आक्सीजन कंसनट्रेटर पहुंचाने का कार्य चल रहा है।

इसके साथ ही कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय की ओर से तीन महीने की अल्पअवधि के छह कोर्स लांच किए गए हैं, जिनमें युवाओं को नर्सिंग केयर, इमरजेंसी, आक्सीजन सिलेंडर लगाने, वेंटीलेटर की सेवाएं देने, ब्लड और अन्य पैथोलॉजी सैंपल लेने और आक्सीजन कंसनट्रेटर का प्रयोग करने जैसा मूलभूत प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने 21 जून से शुरू हो रहे विशेष कोविड-19 टीकाकरण अभियान का जिक्र करते हुए सभी से इसमें सकरात्मक योगदान देने का आह्वान किया।

इस अवसर पर केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडे ने सभी कोर्स को युवाओं के लिए उपयोगी बताते हुए कहा कि इन कोर्स को करने वालों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस दौरान उन्हें स्टाइपेंड भी मिलेगा। इसके लिए सभी सरकारी और निजी चिकित्सालयों से संपर्क किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस वर्ष एक लाख युवाओं को इन कोर्सेज में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

एम्स, रायपुर के निदेशक प्रो. (डॉ) नितिन एम. नागरकर ने इस योजना का स्वागत करते हुए कहा कि इससे विभिन्न अस्पतालों में प्रशिक्षित कर्मचारियों की मूलभूत आवश्यकताएं पूरी की जा सकेंगी। छत्तीसगढ़ के परिप्रेक्ष्य में इसके दूरगामी लाभ मिलेंगे, युवा नौकरी के लिए कौशल प्राप्त कर सकेंगे और चिकित्सालयों को रोगियों की देखभाल के लिए प्रशिक्षित कर्मचारी मिल सकेंगे। उन्होंने इस प्रकार के कार्यक्रमों में एम्स की ओर से हर संभव सहयोग का भी आश्वासन दिया है।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags