रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। Petrol Crisis in CG: हिन्दुस्तान पेट्रोलियम (एचपीसीएल) के पेट्रोल पंपों पर एक बार फिर से सप्लाई प्रभावित होने लगी है। एक बार फिर से छत्तीसगढ़ में हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (एचपी) के पेट्रोल पंप सप्लाई संकट से जूझने लगे हैं। कंपनी के डीलरों का कहना है कि भुगतान देने के बाद भी कंपनी द्वारा सप्लाई देने में चार से पांच दिन का समय लग रहा है। इससे प्रदेश भर में एचपी कंपनी के लगभग 20 प्रतिशत पेट्रोल पंपों पर स्टाक की किल्लत होने लगी है। हालांकि कंपनी के अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि केवल सप्लाई प्रभावित हुई है। एक भी पेट्रोल-पंप पूरी तरह बंद नहीं है।

बताया जा रहा है कि चार दिसंबर को इस मामले को लेकर एचपी कंपनी के डीलर कंपनी के अधिकारियों से मुलाकात करेंगे। डीलरों का कहना है कि सप्लाई नहीं सुधरी तो आने वाले दिनों में और भी पेट्रोल पंप में सूखे ही हालत होगी। प्रदेश भर में एचपीसीएल के 750 पेट्रोल पंप है। छत्तीसगढ़ पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष विजय पांडेय ने बताया कि पिछले साल दो बार 10-12 रुपये एकाएक रेट कम होने और कोरोना के चलते पंप मालिकों को घाटा हुआ था। अब सप्लाई प्रभावित होने से पंपों में तालाबंदी की नौबत आने लगी है। इसके साथ ही डिपों में ट्रांसपोर्टर अपनी मनमानी करते है। शासन अगर इस ओर जल्द ध्यान नहीं देती है तो हालत और खराब हो जाएंगे।

छह माह पहले किया था हड़ताल

सप्लाई प्रभावित होने को लेकर एचपी कंपनी के डीलरों ने इस साल जून में हड़ताल भी किया था। शासन के अधिकारियों के साथ ही कंपनी के उच्च अधिकारियों से मुलाकात की थी। उस समय एचपी कंपनी के लगभग आधे पेट्रोल पंपों पर स्टाक की किल्लत के कारण सूखे की स्थिति हो गई थी। करीब हफ्ते भर बाद फिर से सप्लाई शुरू हो पाई थी। पंप संचालकों का कहना है कि अभी भी हालत बिल्कुल वैसे ही होते जा रहे हैं।

Posted By: Abhishek Rai

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close