रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी समेत जिले में कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण की प्रक्रिया शनिवार से शुरू होगी। पहले दिन सुबह 10 बजे से राजधानी के एमएमआइ अस्पताल, एम्स रायपुर, डा. आंबेडकर अस्पताल और जिला अस्पताल में टीकाकरण शुरू होगा। वैक्सीन की खेप मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को यहां वैक्सीन की तैयारियों को लेकर जायजा लिया। सभी अस्पतालों में इसकी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। स्वास्थ्य विभाग के रायपुर की मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डा. मीरा बघेल का कहना है कि सबसे पहले अस्पतालों में काम कर रहे हेल्थ वर्करों में सबसे छोटे पद के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को वैक्सीन लगवाने के लिए आफर किया जाएगा। यदि शुरू में कोई भयभीत होता है या वैक्सीन नहीं लगवाता है तो फिर अन्य कर्मचारियों व अधिकारियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। प्रदेश में तीन लाख 23 हजार डोज पहुंचे हैं। अकेले रायपुर में 17 हजार लोगों के लिए अभी वैक्सीन आई है। हेल्थ वर्करों में रायपुर से 40 हजार ने पंजीयन कराया है। ऐसे में ऐसा न हो कि केवल बड़े अधिकारियों को ही वैक्सीन लग जाए, इसलिए शुरुआत छोटे कर्मचारियों से की जाएगी।

सुरक्षित रखी गई है वैक्सीन : अधिकारियों के मुताबिक कोरोना वैक्सीन को अनुकूल तापमान दो से आठ डिग्री सेल्सियस के बीच रखा गया है। राज्य वैक्सीन भंडार गृह से इंसुलेटेड वैक्सीन वैन के माध्यम से सभी जिलों में टीके भेजे जा चुके हैं। इसके लिए एक राज्य स्तरीय, तीन क्षेत्रीय और 27 जिला स्तरीय कोल्ड चेन प्वाइंट्स बनाए गए हैं। प्रदेश में टीकाकरण के लिए 1349 स्थल चि-ति हैं, जहां कुल दो लाख 67 हजार 399 हेल्थ-केयर वर्करों, राज्य व केंद्रीय कर्मचारियों, सशस्त्र बलों को टीके लगाए जाएंगे। इन सब की जानकारी कोविन पोर्टल में एंट्री की गई है। टीकाकरण के लिए 7116 टीकाकरण कर्मी प्रशिक्षित हैें। 28 जिलों में 83 स्थानों पर कोविड-19 टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जा चुका है।

28 दिन के बाद लगेगा दूसरा टीका

राज्य टीकाकरण अधिकारी डा. अमर सिंह ठाकुर ने बताया कि 16 जनवरी को शुरू होने वाले टीकाकरण में अभी सिर्फ पंजीकृत स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगेंगे। पंजीकृत संख्या के आधार पर 60 फीसद वैक्सीन ही उपलब्ध कराई जाएगी। क्योंकि वैक्सीन लगने वालों को 28 दिन के भीतर दूसरा डोज लगाना जरूरी होगा। ऐसे में वैक्सीन की दूसरी खेप आते तक बैकअप रखना जरूरी है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पहले चरण में प्रत्येक जिले के चार केंद्रों से टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू होगी।

-----------------

कोरोना वैक्सीन की स्थिति पर एक नजर :

27 कोविशील्ड के बाक्स

प्रत्येक बाक्स में 12 हजार वैक्सीन हैं

3.23 हजार वैक्सीन के कुल डोज पहुंचे

30 किलो वजन है प्रत्येक बाक्स का

10 डोज लगेंगे एक वायल से

50 वायल का एक बाक्स, इसके बाद उसे बड़े बाक्स में रखा गया है। इन बड़े छह बाक्स का फिर एक बाक्स बनाया गया है।

60 फीसद वैक्सीन कुल पंजीकृत स्वास्थ्य कर्मियों के आधार पर दी जा रही है।

99 सेंटर राज्यभर में होंगे।

2.67 लाख प्रदेशभर के स्वास्थ्य कर्मियों को पहले लगेंगे टीके

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस