रायपुर। नईदुनिया, राज्य ब्यूरो। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के छात्र-छात्राओं और आमजनों को एक बड़ी राहत देते हुए अब जाति और निवास प्रमाण पत्र उनके घर पहुंचाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री बघेल के निर्देश पर सामान्य प्रशासन विभाग ने जाति और निवास प्रमाण पत्र के वितरण को सरलीकरण करते हुए सभी कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिया है।

प्रमाण पत्र रजिस्ट्रड डाक के माध्यम से पहुंचाए जाएंगे। इसके लिए रजिस्ट्री शुल्क आवेदकों से लिया जाएगा। आवेदन के वक्त ही व्यय शुल्क की पावती देते हुए आवेदकों के निवास के पते पर प्रमाण पत्र भेजने की सुविधा दी जाएगी। जिससे आवेदकों को फिर से तहसील कार्यालय या लोक सेवा केंद्र में जाने की जरूरत नहीं होगी।

बता दें कि राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने छत्तीसगढ़ लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत तहसील कार्यालयों, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के जरिए जाति और निवास प्रमाण पत्र जारी कर दिए जाते हैं। वर्तमान प्रचलित व्यवस्था में आवेदक लोक सेवा केंद्रों और तहसील कार्यालयों में जाति व निवास प्रमाण पत्र के लिए आवेदन पत्र जमा कर निर्धारित अवधि के बाद लेने जाते हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस