रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। आयकर विभाग का बीते चार दिनों से स्टील और पावर प्लांट कारोबारी समूहों के ठिकानों पर कार्रवाई जारी है, जो शनिवार देर रात तक भी पूरी नहीं हो पाई। आयकर अधिकारियों द्वारा कारोबारी समूहों के संचालकों के साथ ही उनके रिश्तेदारों से भी पूछताछ की जा रही है। रविवार दोपहर तक कार्रवाई पूरी होने की उम्मीद है।

बताया जा रहा कि शनिवार तक आयकर की जांच पूरी होने की उम्मीद थी, लेकिन कुछ कागजात मिलने पर एक बार फिर से कुछ ठिकानों की जांच की गई। गौरतलब है कि बुधवार सुबह से ही आयकर की 250 सदस्यीय टीम द्वारा मारुति फेरो एलायज और ग्रेविटी स्पंज और पावर समूहों के रायपुर, रायगढ़ और खरोरा स्थित प्लांटों पर कार्रवाई जारी है। कारोबारी समूहों के ठिकानों के साथ ही उनके परिचितों व सीए के ठिकानों पर भी दबिश दी गई।

विभागीय सूत्रों के अनुसार आयकर विभाग की टीम ने 42 ठिकानों पर जांच पूरी कर ली है, केवल तीन बचे हतुए हैं। उसमें भी मुख्य रूप से पूछताछ की जा रही है। अभी तक की जांच में एक करोड़ 10 लाख नगद, दो करोड़ की ज्वेलरी व 18 लाकर जब्त हुए हैं। इनके साथ ही कारोबारी समूहों के संचालकों और सीए के लैपटाप, डेस्कटाप, स्मार्ट फोन, पेनड्राइव आदि की क्लोनिंग भी की गई है। बताया जा रहा है कि अभी तक कि जांच में कच्चे में लेनदेन के साक्ष्य काफी ज्यादा मिले हैं।

पिछले वर्ष पकड़ाई थी 250 करोड़ की जीएसटी चोरी

सितंबर-2021 में केंद्रीय जीएसटी ने प्रदेश में पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर की 25 माइनिंग कंपनियों से 250 करोड़ की जीएसटी चोरी पकड़ी थी। इसके बाद दिसंबर-2021 में भी आयकर विभाग ने बड़े-बड़े कारोबारी समूहों पर कार्रवाई कर 250 करोड़ का अघोषित लेनदेन पकड़ा था।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close