रायपुर। Vegetables In Market: बारिश के मौसम में लोगों को अब सब्जियां खाना भी महंगा पड़ने लगा है। बताया जा रहा है कि सब्जियों की स्थानीय क्षेत्रों से होने वाली आवक अब करीब-करीब समाप्त हो गई है और सब्जियों के लिए बाहरी आवक ही बढ़ गया है। हफ्ते भर में सब्जियों की कीमतों में 30 फीसद तक की तेजी आ गई है। पिछले बुधवार 16 जून को 300 रुपये कैरेट में बिकने वाला टमाटर 23 जून को 400 रुपये कैरेट बिका।

इसी प्रकार थोक बाजार में 30 रुपये किलो में बिकने वाली गोभी 40 रुपये किलो, मुनगा 60 रुपये किलो, पत्ता गोभी 15 रुपये किलो, करेला 50 रुपये किलो तक बिका। दूसरी ओर चिल्हर में इन दिनों गोभी 60-70 रुपये किलो, पत्ता गोभी 30 रुपये किलो, टमाटर 20-30 रुपये किलो, बैगन 25 रुपये किलो तक बिका। सब्जी कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में सब्जियों की कीमतों में और बढ़ोतरी के ही संकेत बने हुए हैं।

प्याज में भी बढ़ोतरी

सब्जियों के साथ ही प्याज की कीमतों में भी जबरदस्त बढ़ोतरी हो रही है। चिल्हर में 20 से 25 रुपये किलो तक बिकने वाला प्याज इन दिनों 30 से 35 रुपये किलो तक बिक रहा है। आलू की कीमतों में हालांकि कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है।

वर्जन

इन दिनों सब्जियों की आवक केवल बाहरी क्षेत्रों से ही हो रही है। साथ ही डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का असर भी कीमतों में देखा जा रहा है। आवक में सुधार नहीं हुआ तो आने वाले दिनों में कीमतें और महंगी हो सकती है।

- टी श्रीनिवास रेड्डी, अध्यक्ष, थोक सब्जी व्यावसायी संघ

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags