रायपुर (नईदुनिया, राज्य ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ मोटरयान नियम के प्रावधानों का पालन नहीं करने वाले वाहन डीलर्स का व्यवसाय प्रमाण पत्र निलंबित कर दिया गया है। डीलर्स लाइसेंस बहाल करने अतिरिक्त परिवहन आयुक्त कार्यालय में अपील कर रहे हैं। परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर ने अपील प्रकरणों की नियमानुसार सुनवाई कर 23 जनवरी तक लाइसेंस बहाल करने का निर्देश दिया है।

परिवहन मंत्री अकबर ने शुक्रवार को अपने निवास कार्यालय में विभाग की समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिए। उन्होंने नए मेक व माडल के अनुमोदन की प्रक्रिया में तेजी लाने के भी निर्देश दिए हैं। इसकी प्रक्रिया 25 जनवरी तक हर हाल में पूरी करने के आदेश दिया है। बैठक में मंत्री ने नवा रायपुर के तेंदुआ ग्राम में 17 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन आइडीटीआर (इंस्टीट्यूट आफ ड्राइविंग एंड ट्रैफिक रिसर्च) सेंटर के निर्माण में तेजी लाने और मार्च तक पूरा करने के लिए निर्देशित किया। आइडीटीआर सेंटर के बन जाने से राज्य में दक्ष या कुशल ड्राइवर के लिए प्रशिक्षण की अच्छी सुविधा होगी। यहां से प्रशिक्षित ड्राइवरों के रोजगार की संभावनाएं भी बढ़ जाएंगी। इसमें प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे 78 लोगों के लिए ठहरने का भी इंतजाम है। सेंटर में हर वर्ष लगभग 20 हजार लोगों को प्रशिक्षण की सुविधा का लाभ मिलेगा। बैठक में क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय रायपुर में ड्राइविंग लाइसेंस के परीक्षण के लिए ई-ट्रेक का निर्माण और वाहनों में अति सुरक्षा पंजीयन नंबर प्लेट लगाने, बकाया टेक्स वसूली और ओवर लोड पर नियंत्रण आदि के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई। इस अवसर पर आयुक्त परिवहन डा. कमलप्रीत सिंह, अतिरिक्त परिवहन आयुक्त दीपांशु काबरा, संयुक्त परिवहन आयुक्त वेदव्रत सिरमौर और उप परिवहन आयुक्त गोपी मेश्राम, अंशुमान सिसोदिया व शैलाभ साहू उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags