रायपुर। (नईदुनिया प्रतिनिधि)

रायपुर स्थित मंदिर हसौद थाना अंतर्गत ज्वेलरी दुकान में अंतरराज्जीय गिरोह ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। उन्होंने नवा रायपुर में कंट्रक्शन काम करने के दौरान चोरी की वारदात को अंजाम देने का प्लान बनाया था। चोरी की घटना को अंजाम देने से पहले चोरों ने रेकी की। उसके बाद ज्वेलरी दुकान में सेंधमारी कर 17 किलो चांदी और गिरवी रखे सोने-चांदी के जेवरात चोरी कर ले गए थे। मंदिर हसौद पुलिस ने पश्चिम बंगाल के मालदा से दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपितों के पास से छह लाख रुपये का सामान बरामद किया गया है। तीन अन्य आरोपित अभी तक फरार हैं, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के मुताबिक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक लखन पटले ने बताया कि न्यू राजेंद्र नगर निवासी जगदीश सोनी की मंदिर हसौद में गायत्री ज्वेलर्स नामक दुकान है। वह 26 अक्टूबर की रात आठ बजे दुकान बंद करके अपने घर चले गए थे। 27 की सुबह दशहरा होने के कारण वह दुकान नहीं खोले थे। उनकी दुकान के बगल के साहू ट्रेडर्स के मालिक प्रतीक साहू ने सूचना दी थी कि दुकान के पीछे तरफ से दीवार में सेंधमारी की गई है। सूचना पर दुकानदार ने आकर देखा तो दुकान में रखे लगभग 17 किलोग्राम चांदी के विभिन्ना प्रकार के जेवर और गिरवी रखे सोने-चांदी के जेवरात चोरी हो गए थे।

बाहर के मजदूरों पर पुलिस ने किया फोकस

चोरी की वारदात होने के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही थी। इसी बीच पुलिस को सूचना मिली कि पश्चिम बंगाल और झारखंड से मजदूर आकर नवा रायपुर में मजदूरी करते हैं। मजदूर रोजमर्रा के सामान की खरीदी के लिए मंदिर हसौंद आते हैं। पुलिस ने मजदूरों की जानकारी इकट्ठा करनी शुरू कर दी है। इसी बीच पुलिस को सूचना मिली कि पश्चिम बंगाल और झारखंड से काम करने रायपुर आए कुछ मजदूर नहीं हैं। ऐसे मजदूरों के संबंध में पुलिस ने जानकारी जुटानी शुरू की। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति मुंबई की एक ज्वेलरी दुकान में ज्वेलरी बिक्री करने आया था।

मालदा रवाना हुई पुलिस की टीम

पुलिस की टीम पश्चिम बंगाल के मालदा रवाना हुई। पुलिस ने आरोपितों के थाना मोथाबाड़ी क्षेत्रांतर्गत सकुल्लापुर कालोनी में निवास करने के संबंध में अहम सुराग प्राप्त किया। इस पर टीम ने तत्काल बिना समय गंवाए आरोपितों के निवास स्थान में रेड कार्रवाई कर घटना में शामिल मालदा निवासी प्रभु चौधरी (25) और कृष्णा मंडल (20) को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि ज्वेलरी दुकान में सेंधमारी की घटना को पांच लोगों ने अंजाम दिया था। तीन व्यक्ति झारखण्ड के साहेबगंज के रहने वाले हैं।

चोरी की दुकान में सफल नहीं होते तो करते डकैती

पुलिस ने बताया कि आरोपित कंट्रक्शन का काम करने के दौरान ज्वेलरी दुकान की लगातार रेकी कर घटना को अंजाम दिया था। आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि यदि वे ज्वेलरी दुकान में चोरी की घटना में असफल हो जाते तो रायपुर में डकैती डालने की तैयारी की थी। पुलिस ने दोनों आरोपितों के पास चोरी के छह किलो 300 ग्राम चांदी के जेवरात और चार गिलट की मूर्तियां कुल वजन 10 किलो 300 ग्राम कीमत कुल छह लाख रुपये जब्त किए। पुलिस दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर ट्रांजिट रिमांड पर रायपुर लेकर आई है। घटना के तीन आरोपित फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश में जुट गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local