रायपुर। Penalty Imposed: स्मार्ट सिटी का महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट जवाहर मार्केट का काम अभी तक पूरा नहीं हो पाया है। ठेकेदार की लापरवाही के चलते तीन साल लेट हो गया है। जवाहर मार्केट का अभी तक आधा दर्जन काम पूरा नहीं हो पाया है। काम अधूरा होने से व्यापारी परेशान हैं। बाजार का काम निर्धारित अवधि में पूरा नहीं करने पर स्मार्ट के अधिकारी ने टेंडर की राशि का 0.25 फीसद का दंड लगाया है। हद तो तब हो गई, जब अधिकारियों ने आधे-अधूरे निर्माण के बाद भी उसका उद्धाटन करा दिया। स्मार्ट सिटी का कहना है कि जवाहर बाजार में कुछ काम अभी बाकी हैं। इस कारण जुर्माना लगाया गया है।

ज्ञात हो कि जवाहर बाजार के निर्माण के लिए स्मार्ट सिटी ने अप्रैल, 2017 में निविदा निकाली थी। निविदा की शर्तों के मुताबिक 18 माह में तीन मंजिला इस व्यावसायिक परिसर को तैयार करना था। 20 करोड़ रुपये के इस प्रोजेक्ट को स्मार्ट सिटी ने एवीआर इन्फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को काम का जिम्मा सौंपा था। टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद छह माह के अंदर काम को पूरा करने का दावा किया था। अभी तक लिफ्ट का काम पूरा नहीं हो पाया है। बेसमेंट की पार्किंग, एप्रोच रोड, पानी की व्यवस्था और प्रथम तल का काम अभी तक अधूरा है।

144 दुकानों का कॉम्प्लेक्स

स्मार्ट सिटी से मिली जानकारी के मुताबिक, जवाहर बाजार में भूतल और प्रथम 144 दुकानों का निर्माण किया गया है। जवाहर बाजार में 91 दुकानदार हैं, जिन्हें यहीं दुकानें दी जाएंगी। अतिरिक्त दुकानों को नगर निगम आवंटित कर रहा है। कॉम्प्लेक्स का तीसरा फ्लोर शो-रूम या बड़े दफ्तरों के लिए बनाया गया है। जवाहर बाजार कॉम्प्लेक्स को इस तरह डिजाइन किया गया है कि भीड़ भरे मालवीय रोड पर यहां खुला स्पेस दिखे, पार्किंग हो और यातायात की समस्या से लोगों को निजात मिले।

सी आकार में कॉम्प्लेक्स

बाजार का डिजाइन अंग्रेजी के सी आकार में किया गया है। जवाहर बाजार तीनों तरफ से बंद रहेगा, सिर्फ मालवीय रोड की तरफ से लोग आ-जा सकेंगे। मार्केट का प्रवेश द्वार बनकर तैयार हो गया है। प्रवेश द्वार के दोनों तरफ आने-जाने का रास्ता बनाया जा रहा है।

वर्जन

जवाहर मार्केट को दो साल पहले बनकर तैयार होना था, लेकिन अभी तक व्यवस्थित पार्किंग, एप्रोच रोड और लिफ्ट आदि का काम पूरा नहीं हो पाया है।

- सौरभ बजाज, अध्यक्ष जवाहर बाजार

जवाहर बाजार का 95 प्रतिशत काम पूरा हो गया है, लेकिन अभी तक कुछ काम बचा है। काम में विलंब के कारण ठेका एजेंसी को नियमानुसार पेनाल्टी लगाई गई है।

- एसके सुंदरानी, जीएम स्मार्ट सिटी

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags