रायपुर (राज्य ब्यूरो)। प्रदेश में मंत्री कवासी लखमा और भाजपा नेताओं के बीच बयानबाजी तेज हो गई है। मंत्री लखमा ने गुरुवार को मीडिया से चर्चा में पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह और उनके कार्यकाल पर तीखा हमला बोला। लखमा यही नहीं रुके। उन्होंने डा. रमन को झोलाछाप डाक्टर तक कह दिया। दरसअल, लखमा से मीडिया ने सवाल किया कि बस्तर के आदिवासी नेता मुख्यमंत्री निवास पहुंचे थे। इस पर कवासी ने कहा कि भूपेश बघेल आदिवासियों, किसानों, मजदूरों के लिए काम करने वाले मुख्यमंत्री हैं।

15 साल डा. रमन सिंह केवल हेलीकाप्टर में यात्रा करते रहे, लेकिन बस्तर में शांति नहीं आई। बस्तर में आज शांति है और नेता कार से दौरे कर रहे हैं। आने वाले चुनाव में भाजपा को एक भी सीट नहीं मिलेगी। मंत्री लखमा के बयान पर भाजपा ने पलटवार किया है।

पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कहा, लखमा जी! हमारी एक सीट आएगी या नहीं, यह छत्तीसगढ़ की जनता तय करेगी। आप जिस भाषा का प्रयोग 15 वर्ष तक मुख्यमंत्री रहे और आयुर्वेदिक डाक्टर रमन सिंह के लिए कर रहे हैं, उससे आप सीधा-सीधा आयुर्वेदिक चिकित्सक वर्ग और प्रदेश की जनता का अपमान कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह के लिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल आपको शोभा नहीं देता और यह सभी आयुर्वेदिक डॉक्टरों का भी अपमान है।

दरसअल, पिछले विधानसभा चुनाव में आदिवासी क्षेत्रों से भाजपा का पूरी तरह सफाया हो गया था। बस्तर और सरगुजा की एक भी विधानसभा सीट पर भाजपा के विधायक नहीं हैं। ऐसे में लखमा के बयान को मुद्दा बनाकर भाजपा आक्रामक विरोध करने की तैयारी कर रही है।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local