रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के भेंट-मुलाकात कार्यक्रम को पूरी तरह से असफल बताते हुए कहा कि यह एक इवेंट शो है। जिसे कथित तौर पर सफल करने में प्रशासन जुट जाती है और वहां पर आए आवेदकों को पहले ही बता दिया जाता है कि मुख्यमंत्री के साथ किस तरह का संवाद करना है।

जिस तरह से कार्यक्रम में भव्यता के नाम पर भारी खर्चा किया जा रहा है इससे स्पष्ट है कि यह कार्यक्रम केवल दिखावा है और हर जगह मुख्यमंत्री बघेल केवल एक ही तरह से बातें कहते हैं और वही दृश्य दिखाई जाती है जिसमें उनके इवेंट प्लानर पहले से ही तय रखते हैं।

उन्होंने कहा कि इससे पहले भी मुख्यमंत्री जन दर्शन में प्रदेश वासियों ने अपनी समस्याओं को रखा था जिनके निराकरण को लेकर अब तक कुछ भी नहीं हुआ है और एक बार फिर से समस्या के समाधान के नाम पर प्रदेशवासियों को छला जा रहा है। जिस तरह से मुख्यमंत्री लाव लश्कर के साथ जिलों का दौरा कर रहे हैं उसका कुछ भी लाभ आम जनता को नहीं मिल रहा है। मानो ऐसा लगता है कि अपनी दिल्ली से समय बचाने के लिए मुख्यमंत्री बघेल प्रदेश में पालिटिकल पर्यंटन में निकल जाते है। जिसका जनता से कोई सरोकार नहीं है।

नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने नानाजी देशमुख के स्मृति स्थल का किया अवलोकन

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक चित्रकुट प्रवास के दौरान नानाजी देशमुख स्मृति सियाराम कुटीर का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि नानाजी देशमुख समाजिक जीवन में सबके समृध्दि के लिए जो कार्य किया है वह अनुकरणीय है। उनका समूचा जीवन दर्शन हम सबके लिए प्रेरक है। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य व कृषि के माध्यम से स्वालंबन की भावना का विस्तार किया है।

जिस अनुष्ठान के माध्यम से एक विशाल संकल्प के साथ चित्रकूट में जिस वैचारिक विश्वविद्यालय की स्थापना की थी निश्चित ही समाज में उद्यमशील युवा यहां से अध्ययन कर राष्ट्र निर्माण में अपनी अहम भूमिका निभा रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि नानाजी देशमुख के जीवन दर्शन पर केंद्रित साहित्य समाज को दिशा देने वाली है। इसका अध्ययन हर अध्येता को करना चाहिए।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close