रायपुर, राज्य ब्यूरो। Lockdown In Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ में लाकडाउन की मियाद गुरुवार (छह मई) की सुबह खत्म हो रही है, लेकिन प्रदेश में कोरोना संक्रमण की जो स्थिति है, उसमें फिलहाल लाकडाउन पूरी तरह खत्म करने की गुंजाइश नहीं दिख रही है। अप्रैल के अंतिम दिनों में संक्रमण की दर घटी थी, लेकिन मई के शुरुआती दो दिनों में आंकड़ा फिर बढ़ने लगा है।

ऐसे में जिन जिलों में संक्रमण की दर लगातार कम हो रही है, वहां लाकडाउन में थोड़ी राहत और कुछ रियायत मिल सकती है। लेकिन जहां संक्रमण की दर अब भी ज्यादा है वहां राहत की उम्मीद नहीं की जा सकती। हालांकि सभी जिलों में कलेक्टर आज-कल में हालात की समीक्षा करके लाकडाउन को लेकर फैसला लेंगे।

आधा दर्जन से ज्यादा जिलों में अब भी स्थिति गंभीर

राज्य में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की शुरुआत रायपुर, दुर्ग और राजनांदगांव से हुई थी। केवल राजनांदगांव में स्थिति थोड़ी नियंत्रित है। दुर्ग और रायपुर में पहले की तुलना में आंकड़े थोड़े कम जरूर हुए हैं, लेकिन अब भी रोज हजार से ज्यादा नए केस आ रहे हैं। वहीं, बिलासपुर संभाग में संक्रमण की रफ्तार बढ़ी है। बिलासपुर, कोरबा और रायगढ़ में रोज हजार से ज्यादा नए केस आ रहे हैं। जांजगीर, मुंगेली और यहां तक की गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में भी संक्रमण की दर बढ़ी हुई है।

मई में पीक पर होने की आशंका

प्रदेश में संक्रमण के आंकड़े लगातार चढ़-उतर रहे हैं। इस वजह से यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है कि संक्रमण की चेन टूटी है या नहीं। अफसर कहते हैं कि कुछ रिपोर्ट और अध्ययनों के आधार पर मई में पीक की संभावना जताई गई है। इसे देखते हुए लाकडाउन बढ़ाया जा सकता है।

फिर बढ़ा संक्रमण का ग्राफ

राज्य में 30 अप्रैल को संक्रमण की दर 25 फीसद हो गई थी। वहीं, मई के शुरुआती दो दिनों में यह आंकड़ा फिर बढ़ा है। एक मई को पाजिटिविटी दर 26 फीसद थी, जो दो मई को बढ़कर 28 फीसद हो गई। इसी तरह मृत्यु दर भी इन दो दिनों में बढ़कर क्रमश: 1.18 और 1.19 फीसद हो गई है, जबकि अप्रैल के अंतिम दिनों में इसमें गिरावट देखी गई थी। 30 अप्रैल को यह दर 1.17 फीसद थी।

इस आधार पर मिल सकती है राहत

राज्य सरकार के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार पर्याप्त मेडिकल सुविधा उपलब्धता को आधार बनाकर लाकडाउन खत्म किया जा सकता है। बता दें कि सरकार राज्य के सभी जिलों में डेटिकेटेड कोविड अस्पताल बनाने का दावा कर रही है। साथ ही राज्य में आक्सीजन, आइसीयू और वेंटिलेटर बेड खाली होने की बात प्रमुखता से बताई जा रही है।

तब और अब के आंकड़े जानिए

तारीख संक्रमण की दर मृत्यु दर

9 अप्रैल 24.50 1.11

2 मई 28.13 1.19

Posted By: Azmat Ali

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags