LPG Cylinder : रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। लॉकडाउन के चलते बीते पांच दिनों में गैस सिलेंडरों की मांग 40 फीसद मांग बढ़ गई है। गैस सिलेंडर की जल्द सप्लाई के लिए उपभोक्ता गैस एजेंसी में लगातार फोन भी कर रहे है। रोजाना ही ये मांग बढ़ती जा रही है। एक अनुमान के अनुसार अगर राजधानी रायपुर में रोजाना एक हजार एलपीजी की सप्लाई माना जाए तो इन दिनों रोजाना 14 सौ एलपीजी सिलेंडरों की मांग बनी हुई है। मांग बढ़ने का एक कारण यह भी है कि लोगों में दहशत का माहौल है कि कहीं उनकी यह सेवा भी प्रभावित न हो जाए।

ऑनलाइन बुकिंग करने के साथ ही गैस एजेंसियों में भी इन दिनों लोगों की भीड़ जुटने लगी है। रायपुर एलपीजी डिस्ट्रीब्यूशन एसोसिएशन के संरक्षक और एचपी गैस एजेंसी के संचालक अब्दुल हमीद हयात ने बताया कि कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए गैस एजेंसियों में भी अब सुबह नौ से शाम शाम बजे तक काम होगा। होम डिलीवरी भी इसी दौरान किया जाएगा।

पेट्रोल-डीजल की मांग 75 फीसद घटी

पंप संचालकों के अनुसार लॉकडाउन के पहले रायपुर में रोजाना चार लाख लीटर पेट्रोल की खपत थी,जो अब घटकर एक लाख लीटर पहुंच गई। वहीं डीजल की खपत रोजाना आठ लाख लीटर थी, जो घटकर दो लाख लीटर हो गई है। पेट्रोल पंप डीलर एसोसिएशन के महामंत्री अभय भंसाली ने बताया पेट्रोल-डीजल की मांग तो घटी ही है।

टमाटर 60 रुपए के पार ,बरबट्टी 80 रुपये किलो

लॉक डाउन के पांचवें दिन आवक की कमी के कारण सब्जियों की कीमतों में जबरदस्त तेजी देखने को मिली। चिल्हर में टमाटर 40 से 60 रुपये किलो और बरबट्टी 80 रुपये किलो तक पहुंच गई। सब्जी कारोबारियों का कहना है कि अगर आवक में सुधार नहीं हुआ तो आने वाले दिनों में कीमतों में और बढ़ोतरी होगी। गुरुवार को सब्जियों की चिल्हर की कीमतों में भी जबरदस्त तेजी आई। यह तेजी शास्त्री बाजार, गोलबाजार, टिकरापारा, संतोषी नगर में देखी गई। टमाटर थोक में 15-20 रुपये किलो और चिल्हर में 40 से 60 रुपये किलो तक बिका।

इसी प्रकार फूल गोभी थोक में 12 रुपये, चिल्हर में 40 रुपये किलो,पत्ता गोभी थोक में 6-8 रुपये किलो और चिल्हर में 30-40 रुपये किलो रहा। लौकी थोक में 6 रुपये किलो और चिल्हर में 20 रुपये किलो, धनिया थोक में 30 और चिल्हर में 80 रुपये किलो, करेला थोक में 25-30 रुपये और चिल्हर में 60-80 रुपये किलो, भिंडी थोक में 15-20 रुपये किलो और चिल्हर में 60-80 रुपये किलो तक बिकी।

थोक सब्जी व्यावसायी संघ के अध्यक्ष टी श्रीनिवास रेड्डी का कहना है कि बाहर की गाड़ियां रोकी जाने के कारण सब्जियों की आवक कमतर हो गई है। ऐसी ही स्थिति रही तो आने वाले दिनों में कीमतें और बढ़ जाएंगी। चिल्हर में इन दिनों आलू-प्याज 35 से 40 रुपये किलो तक बिक रहे है। बताया जा रहा है कि इसकी आवक अभी सामान्य बनी हुई है।

Posted By: Prashant Pandey

fantasy cricket
fantasy cricket