रायपुर। पं. रविशंकर शुक्ल विवि में पहली बार अब एजुकेशन (शिक्षा) पर भी एमए कराया जाएगा। इसके लिए 30 सीट निर्धारित कर दी गई है। वहीं पीजी यानी स्नातकोत्तर स्तर पर सिर्फ रविवि के अध्ययन शालाओं में ही सीबीसीएस (च्वाइस बेस्ड के्रडिट सिस्टम) लागू हो पाया है।

अन्य कॉलेजों में यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन की अनुशंसा के बाद यह सिस्टम लागू नहीं हो पाया। सीबीसीएस के तहत कोई भी विद्यार्थी कला के साथ साइंस या फिर मैथ्स या कामर्स या कोई अन्य विषय को पढ़ सकता है। यही स्वतंत्रता हर संकाय को है, लेकिन यह सिस्टम लागू नहीं हो पा रहा है।

रविवि में एक जून से ही दाखिले के लिए प्रक्रिया शुरू हो गई है। अध्ययन शालाओं में प्रवेश के लिए जून के आखिरी सप्ताह में प्रवेश परीक्षा ली जाएगी। अधिक जानकारी के लिए रविवि की वेबसाइट पर भी संपर्क कर सकते हैं। रविवि में विवरण पत्रिका वेबसाइट से अपलोड करके फार्म भर सकते हैं। फार्म डॉक से भी स्वीकार किए जाएंगे।

रविवि में दाखिले के लिए यह है पात्रता

एमए कक्षाओं के लिए किसी स्नातक उपाधि में तथा एमएससी कक्षाओं के लिए बीएससी उपाधि में कम से कम द्वितीय श्रेणी होनी चाहिए। पहले से स्नातकोत्तर उपाधि प्राप्त छात्रों को स्थान रिक्त रहने पर ही प्रवेश मिलेगा। स्नातक स्तर के प्रथम वर्ष में 22 वर्ष (बीपीएड में उम्र 25 वर्ष) एवं स्नातकोत्तर स्तर के प्रथम वर्ष में 27 वर्ष से अधिक उम्र के आवेदकों को प्रवेश की पात्रता नहीं होगी।

उम्र की गणना एक जुलाई, 2018 की स्थिति में की जाएगी। उम्र सीमा के बंधन में छात्राओं को तीन वर्ष की छूट रहेगी। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े वर्ग, विकलांग विद्यार्थियों, महिला आवेदकों के लिए उम्र सीमा में तीन वर्ष की छूट रहेगी। एमफिल, एमटेक तथा शोध उपाधि पाठ्यक्रमों के लिए उम्र सीमा नहीं होगी।

योग वालों के लिए उम्र में छूट

एमए एप्लाएड फिलासफी एवं योग में उम्र सीमा 40 वर्ष तक होगी। पीजी डिप्लोमा इन योग एजुकेशन एवं फिलासफी में उम्र सीमा का बंधन नहीं है। किसी स्नातकोत्तर परीक्षा में अनुत्तीर्ण हुए छात्र को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। जो छात्र विश्वविद्यालयीन परीक्षा में अनुचित साधनों का उपयोग करने के कारण दंडित किए गए हों, उन्हें प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

जिन छात्रों के विरुद्ध गंभीर आपराधिक या अनैतिकता-संबंधी प्रकरण अथवा परीक्षा-अधिनियम के अंतर्गत प्रकरण पुलिस विभाग या न्यायालय में लंबित हो या जिन छात्रों ने परीक्षा में किसी प्रकार का व्यवधान उपस्थित किया हो, उन्हें तब तक प्रवेश नहीं दिया जाएगा, जब तक वे उस कक्षा को पास नहीं कर लेते।

यह है दाखिले के लिए टाइम टेबल

शिक्षण सत्र 2018-19 में प्रवेश के लिए आवेदन एक जून 2018 से

पीजी स्तर पर दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा जून के आखिरी सप्ताह

कुलपति की अनुमति से प्रवेश की अंतिम तिथि - 14 अगस्त, 2018

छात्रसंघ गठन मनोनयन एवं शपथ ग्रहण - 22 अगस्त 2018 से 31 अगस्त, 2018

दीक्षांत समारोह -दिसंबर 2018 से जनवरी 2019

पीएचडी कोर्स वर्क परीक्षा - माह नवम्बर 2019

वार्षिक

वार्षिक प्रायोगिक परीक्षाओं का आयोजन - 16 फरवरी 2019 से 5 मार्च 2019

वार्षिक परीक्षा का आयोजन - 12 मार्च 2019 से 12 मई 2019

एम.फिल वार्षिक परीक्षा का आयोजन - अप्रैल 2019

प्रवेश परीक्षा

स्नातकोत्तर कक्षाओं में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा - जून 2018 के तृतीय या चतुर्थ सप्ताह में

एमफिल में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा - जून-जुलाई 2018

पीएचडी उपाधि के लिए प्रवेश परीक्षा - अगस्त में होगी

- पहली बार एमए एजुकेशन शुरू हो रहा है। सीबीसीएस कॉलेजों में भी हो, इस बार विचार किया जाएगा। अगली बैठक में मुद्दे पर चर्चा की जाएगी। - डॉ. केशरीलाल वर्मा, कुलपति, पं. रविवि

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020