रायपुर। Raipur News: पर्यावरण शुद्धि, गो-संरक्षण और कोरोना महामारी से बचाव के लिए शिव महामृत्युंजय का जाप किया जा रहा है। महोत्सव में स्र्द्राभिषेक किया जा रहा है। प्रतिदिन पूजन, आराधना, जाप, रुद्राभिषेक के साथ विविध द्रव्यों के द्वारा विशेष अर्चना 23 जनवरी तक की जाएगी।

सुदर्शन संस्थान में मकर संक्रांति के अवसर पर 15 से 23 जनवरी तक अनुष्ठान किया जा रहा है। बिल्वपत्र 'कमल पुष्प, धतूराफल, ऋतु फल, पंचमेवा आदि अर्पण कर प्रार्थना की जा रही है। भगवान शिव को खुश करने के लिए अनुष्ठान किया जा रहा है, ताकि सबको राहत मिल सके। यज्ञाचार्य झम्मन शास्त्री ने श्रद्धालुओं को बताया कि भगवान शिव मंगल के धाम है। कल्याण प्रद शंकर जी सुगम उपासना से भक्तों के लौकिक, पारलौकिक कामनाओं की पूर्ति कर देते हैं।

सनातन धर्म में सभी देवी-देवताओं के हजारों नाम के द्वारा अर्चना का विधान है। नाम स्वरूप भेद से विविध सामग्री समर्पण कर भगवान के दिव्य चरणों में जीव भक्ति, मुक्ति तथा भोग की प्राप्ति कर सकते हैं। भगवान के चरणों में तन-मन-धन को धन्य बनाने के लिए यह शास्त्रीय परंपरा है। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों से भक्त पहुंच रहे हैं।

धर्म संघ पीठ परिषद, आदित्य वाहिनी, आनंद वाहिनी, राष्ट्रीय उत्कर्ष अभियान के सदस्य यहां सक्रिय हैं। आयोजक प्रमुख राजेश तिवारी के अलावा अनुष्ठान में सीमा तिवारी, रंजन सिंह, डाक्टर मुरली लाल, अमिताभ अग्रवाल, संतोष तिवारी, डाक्टर निधि वैष्णव, उत्तम शर्मा, संजय सिंह, शिव प्रकाश मिश्रा, मोहन, अरुण शर्मा, कुलदीप शर्मा, संजय शर्मा, रमेश शर्मा, सुनीता शर्मा, कविता शर्मा, किरण शुक्ला, सरोजनी शर्मा, वीणा मिश्रा आदि सक्रिय हैं।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags