रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर में सोमवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (अभाविप) ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। अभाविप ने कामन एंट्रेंस टेस्ट कराए जाने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रबंधन और छात्रों की बीच तीखी नोकझोंक और झूमाझटकी हुई। पुलिस को भी हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। इससे पुलिस से बहस भी हुई। छात्रों की मांग पूरी न होने पर विश्वविद्यालय के सामने भूख हड़ताल की चेतावनी दी गई है।

उल्लेखनीय है कि अभाविप ने स्नातक एवम स्नातकोत्तर में प्रवेश के लिए हो रही अनियमितताओं की कड़े शब्दों में निंदा की है। वहीं इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय प्रशासन को अलग-अलग मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि पीजी और पीएचडी में प्रवेश के लिए जेएनकेवीवी जबलपुर और आरएसकेवी ग्वालियर की तरह ही इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के छात्रों को पहले प्राथमिकता दी जाए। मेरिट लिस्ट जारी करने के लिए छात्रों के प्रतिशत, ओजीपीए, कैटेगरी स्पष्ट रूप से पूर्ण पारदर्शिता के साथ जारी की जाए। उक्त मांग दो दिनों में पूर्ण नहीं होने पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के कार्यकर्ता अनिश्चितकालीन प्रदर्शन करेंगे।

ज्ञापन में ये मांगें

अभाविप ने मांग की है कि कामन एंट्रेंस टेस्ट करवाया जाए। आल इंडिया लेवल पर यह परीक्षा विवि द्वारा आयोजित की जाती है। इसके साथ ही पैनल जांच हो। आरटीइ से प्राप्त उत्तरपुस्तिका की जांच के लिए पैनल गठित करने की मांग की। वहीं अभाविप ने मांग की है कि जो छात्र परीक्षा परिणाम से संतुष्ट नहीं हैं, उनकी उत्तरपुस्तिका की जांच के लिए पैनल गठित किया जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस