रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

अंतागढ़ टेपकांड मामले में मंतूराम पवार की ओर से कोर्ट में पक्ष रखने वाले वकील ने उनका साथ छोड़ दिया है। वकालतनामा पेश करने वाले वकील अमित बैनर्जी ने कोर्ट में आवेदन देकर पावर विड्रा कर दिया। अब अमित बैनर्जी मंतूराम का पक्ष नहीं रखेंगे। अगली पेशी में मंतूराम को स्वयं अथवा किसी अन्य वकील को मय वकालतनामे के साथ पेश करना होगा। मंतूराम ने बताया कि वे वाइस सैंपल देने के लिए तैयार हैं। अब तक इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन के दामाद डॉ.पुनीत और मंतूराम का केस एक ही वकील देख रहे थे। मंतूराम ने कहा कि अगली पेशी में नए वकील मेरा पक्ष रखेंगे। गुरुवार को एसआइटी द्वारा वाइस सैंपल के संबंध में लगाए गए आवेदन पर कोर्ट में सुनवाई होनी थी, लेकिन अमित जोगी की तबीयत खराब होने की वजह से इसकी तारीख आगे बढ़ा दी गई। कोर्ट ने सुनवाई की तारीख 16 सितंबर तय की है। उधर अमित जोगी को दो दिनों तक अभी अस्पताल में ही रखा जाएगा।

अमित के वाइस सैंपल पर उसी दिन सुनवाई

जानकारी के मुताबिक अमित जोगी का वाइस सैंपल देने पर 16 सितंबर को ही सुनवाई होगी। अमित जोगी के वकील ने कोर्ट में आवेदन देकर अमित जोगी की तबीयत खराब होने और उनके अस्पताल में भर्ती होने का हवाला देकर कोर्ट में ला पाना संभव नहीं होने की जानकारी दी। इसके बाद कोर्ट ने अमित समेत अजीत जोगी, डॉ.पुनीत गुप्ता के वाइस सैंपल पर 16 सितंबर को सुनवाई करना तय किया। अस्पताल से जारी किए गए अमित जोगी के मेडिकल में उन्हें अगले 48 घंटों तक सघन चिकित्सीय जांच में रखने की बात कही गई है। अमित जोगी ने वकील के माध्यम से खुद ही बहस करने और प्रोडक्शन वारंट पर बुलाए जाने की कोर्ट से मांग की है। ऐसे में फिलहाल इसकी संभावना अब कम नजर आ रही है कि अब कोर्ट से फिर कोई प्रोटक्शन वारंट जारी होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket