धमतरी,रायपुर। छत्तीसगढ़ के धमतरी जिला मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर चिखली गांव के ग्रामीणों ने चोरी रोकने गजब का तरीका इजाद किया है। आसपास के गांवों में लगातार हो रही चोरी की घटनाओं से चिंतित ग्रामीणों ने अपने गांव में चौपाल लगाई। चोरी रोकने के लिए सबको सतर्क किया। और तय किया कि गांव के युवाओं की टोली बनाकर आधी रात तक गांव की गलियों में गश्त करेंगे। दिन में भी नागरिक गांव में आने-जाने वालों पर नजर रखेंगे। इस बीच कोई भी व्यक्ति गांव में चेहरा ढंककर अथवा स्कार्फ लगाकर प्रवेश किया तो उससे पांच सौ रुपये जुर्माना वसूलेंगे।

इसके लिए गांव में बैनर लगाकर रखा गया है कि कोई भी व्यक्ति स्कार्फ बांधकर गांव में प्रवेश किया तो पांच सौ रुपये जुर्माना भरना पड़ेगा। दरअसल, थाने में भी जब चोरी हो गई तब पुलिस पर से ग्रामीणों का विश्वास ही उठ गया और उन्होंने अपने गांव की सुरक्षा खुद करने के लिए ऐसा उपाय ढूंढ निकाला।

चिखली गांव के रमेश कुमार सिन्हा, विनोद तारम, तानाजी राव, मनी साहू,डेमन मंडावी, अर्जुन कोर्राम आदि ने बताया कि क्षेत्र के कोलियारी नयापारा, भिड़ावर, कोहका, कोड़ेगांव, रैय्यत आदि गांवों में लगातार चोरी की घटनाएं हो रही है। इससे उनके गांव में भी दहशत है।

चारामा ब्लाक के ग्राम गीतपहार से चोरी की घटना शुरू हुई। भिड़ावर में डेढ़ लाख रुपये चोरी हो गई। ग्राम कोहका के देवेंद्र यज्ञवंशी और राम टांडिया के घर चोरी हुई। चोरों ने देवी-देवताओं के स्थान मंदिर को भी नहीं छोड़ा। कोलियारी के खड़ादेव मंदिर में दस लोगों के सोए होने के बावजूद रुपये और त्रिशूल की चोरी कर लिया गया ।

इस तरह ग्रामीण कर रहे गलियों में रतजगा

चिखली के मनी साहू, डेमन मंडावी, अर्जुन कोर्राम, रमेश कुमार सिन्हा, विनोद तारम, तानाजी राव आदि ने बताया कि एक अक्टूबर को ग्राम कोहका के एक घर में चोर घुस गए थे। चोरों की दहशत से परिवार वाले घर में दुबके रहे। चोरी से पहले चोरों ने घर में रखा खाना निकाला।

सब्जी नहीं होने पर घर के किचन में रखा करीब आधा किलो आचार खा गए। इतना ही नहीं, अकलाडोंगरी थाने में भी चोरी हो चुकी है। चर्चा तो यह भी है कि चोरों ने वहां तैनात जवानों को बंधक बनाकर वारदात को अंजाम दिया था। लगातार चोरी की घटना होने के बाद क्षेत्र के ग्रामीण अब रतजगा भी करने लगे हैं, ताकि चोर गिरोह पकड़ा जा सके।

ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम भिड़ावर में कुछ लोगों को ग्रामीणों ने दौड़ाकर पकड़ा और उसे पुलिस के हवाले किया था। उन लोगों के पास से हरियाणा का वाहन जब्त किया गया था। सभी लोग यूपी के रहने वाले थे। उनके पास से आइडी कार्ड भी जब्त हुआ था। पकड़े गए सभी लोग चारामा ब्लाक में किराए के मकान में रहते थे। मकान मालिक को भी उनके बारे में पूछताछ के लिए थाना बुलाया गया था।

इस संबंध में धमतरी के एसपी बालाजी राव सोमावार का कहना है कि अकलाडोंगरी थाना क्षेत्र के गांवों में पिछले कुछ दिनों से लगातार चोरियों होने और थाने में भी चोरी होने की जानकारी नहीं है। इस संबंध में पता करवाता हूं।