रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। National Eligibility and Entrance Test चिकित्सा स्नातक पाठ्यक्रम में प्रवेश पाने को होने वाली राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा (नीट) तीन मई को प्रस्तावित है। इसके प्रवेश पत्र संभवनः इस माह के अंतिम हफ्ते में अपलोड हो जाएंगे। समय कम होने के कारण परीक्षार्थी युद्ध स्तर पर तैयारी में जुटे हैं। इसके पहले आवेदक अपने आवेदन को सुधार सकते हैं।

आवेदन फॉर्म में सुधार करने के लिए करेक्शन विंडो दोबारा खोल दी गई है। जो भी विद्यार्थी फॉर्म में सुधार नहीं कर पाए थे, वे कर सकते हैं। इसके लिए उम्मीदवारों को एनटीए की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। फॉर्म में संशोधन लिए 19 मार्च की रात 12 बजे तक का समय दिया गया है। इसके बाद मौका नहीं दिया जाएगा। बता दें कि इसके पहले आवेदक 31 जनवरी तक फॉर्म संशोधन कर सकते थे।

प्रदेश में इतनी सीटों पर होगा दाखिला

छत्तीसगढ़ में एमबीबीएस, बीडीएस आदि कोर्सों में प्रवेश के लिए होने वाली नीट परीक्षा को लेकर परीक्षार्थियों में तनाव है। 12वीं पास विद्यार्थी कोर्स का रिवीजन करने में जुटे हैं, जबकि 12वीं के परीक्षार्थी बोर्ड परीक्षा की तैयारी के साथ टेस्ट सीरीज के माध्यम से खुद को अपडेट करने में जुटे हैं।

परीक्षा बहुविकल्पीय प्रश्नपत्र कुल तीन घंटे का होगा, जिसमें 180 प्रश्न होंगे, जो 720 अंकों के होंगे, जो फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी (बॉटनी व जूलॉजी) से होंगे। एक सही उत्तर पर चार अंक मिलेंगे और गलत उत्तर पर एक अंक कट जाएगा। इनमें बायोलॉजी से 90 प्रश्न होंगे, जो 360 अंकों के होंगे।

फिजिक्स और केमिस्ट्री के 45-45 प्रश्न 180-180 अंकों के होंगे। नीट 2020 प्रवेश परीक्षा आयोजन 11 भाषाओं में होगा, जो अंग्र्रेजी, असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नाड, मराठी, उड़िया, तमिल, तेलुगु, उर्दू में होगी।

महत्वपूर्ण टॉपिक पर दें ध्यान

नीट 2020 प्रवेश परीक्षा कुल 720 अंकों की होगी, जिसमें फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी और बॉटनी के कुल 180 प्रश्न पूछे जाएंगे। बलूनी क्लासेज के निदेशक डॉ. ललितेश यादव ने बताया कि लिहाजा परीक्षार्थी अब रणनीति बनाकर तैयारी करें।

फिजिक्स में मैनेनिक्स, हीट, लाईट, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक इंडक्शन, इलेक्ट्रोस्टिक, मॉडर्न फिजिक्स, वहीं केमिस्ट्री में जनरल ऑर्गेनिक केमिस्ट्री, पीरियॉडिक टेबल, कोऑर्डिनेशन केमिस्ट्री, इकुलीबिरिया, सॉल्यूशन, इलेक्ट्रोकेमिस्ट्री, बायोलॉजी में इकोलॉजी, जेनेटिक्स, प्लांट एंड एनीमल फिजियोलॉजी कायटोलॉजी जैसे विषयों की तैयारी मजबूती से करें, क्योंकि इन्हीं से ज्यादा प्रश्न आने की संभावना होती है। तैयारी करने के लिए पिछले 10 सालों के पेपर के साथ प्रैक्टिस सेट जरूर सॉल्व करें।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket