रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने प्रदेश के 50 व्यापारिक संघों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए व्यापार में आने वाली दिक्कतों और उनकी मांगों को लेकर बात की। इस बातचीत में यह बात सामने आई कि लॉकडाउन में खुदरा कारोबार के साथ ही दूसरे सभी सेक्टर प्रभावित हैं। लॉकडाउन खुलने के बाद व्यापार की स्थिति को सुधारने के लिए अभी से योजनाएं बनानी होंगी। व्यापारी प्रापर्टी टैक्स में दो माह की छूट चाहते हैं। साथ ही व्यापारियों और उनके कर्मचारियों का कम से कम 50 लाख का स्वास्थ्य बीमा सरकार करे। कर निर्धारण के लिए व्यक्तिगत सुनवाई पर अस्थाई रोक लगाई जाए। न्यूनतम बिजली बिल लेने के साथ उपभोक्ताओं से फिक्स चार्ज लिए जाए। ऐसा करने से बड़ी राहत मिलेगी। पारवानी ने कहा कि जीएसटी रिफंड को तेज करने के साथ दस्तावेजी आवश्यकताओं को कम किया जाए।

दंड न लगाया जाए

व्यापारियों का कहना था कि सभी संविदात्मक दायित्वों, विलंबित परियोजनाओं को पूरा करने के लिए राज्य और केंद्र सरकार की एजेंसियों द्वारा कोई दंड न लिया जाए। इस वीडियो कांफ्रेंसिंग में प्रदेश भर के व्यापारिक संघ जुड़े हुए थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना