सतीश पांडेय, रायपुर। Raipur News : ट्रेनों में सफर के दौरान महिला यात्रियों से छेड़छाड़ आदि की घटनाओं को ध्यान में रखकर रेलवे प्रशासन ने दुर्ग-रायपुर से देश के विभिन्ना शहरों में जाने वाली ट्रेनों में सुरक्षा बढ़ाने के लिए मेरी सहेली अभियान शुरू किया है। इस अभियान में अकेले सफर करने वाली महिला यात्रियों से रेलवे सुरक्षा बल का दस्ता मिलकर दिक्कतों की जानकारी लेगा। परेशानी होने पर वहीं उनकी समस्या दूर की जाएगी।

फिलहाल सारनाथ, अमरकंटक और जनशताब्दी एक्सप्रेस समेत नौ ट्रेनों में सुरक्षा के अतिरिक्त इंतजाम किए गए है। इसके लिए एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है। रेलवे प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार, दुर्ग और रायपुर से देश के विभिन्न शहरों में जाने वाली ट्रेनों में सुरक्षा बढ़ाने मेरी सहेली अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान के तहत अकेले सफर करने वाली महिला यात्रियों से रेलवे सुरक्षा बल का दस्ता मिलकर उनसे दिक्कतों की जानकारी लेगा।

परेशानी होने पर वहीं उनकी समस्या दूर करने की कार्रवाई करेगा। रेलवे अफसरों ने बताया कि अभी जितनी भी ट्रेनों का चयन किया गया है, उसमें ज्यादातर में भीड़भाड़ रहती है। मेरी सहेली अभियान में परिवार के साथ यात्रा करने वाली महिलाओं के साथ-साथ अकेले सफर करने वाली महिलाओं पर ज्यादा फोकस रहेगा। महिला आरपीएफ कर्मियों की टीम व्यक्गित रूप से यात्रियों से मिलकर सुरक्षा संबंधी व अन्य सभी तरह की समस्याओं को सुनेंगी।

इस नंबर पर करे काल, मिलेगी सहायता

ट्रेन में सफर के दौरान सुरक्षा संबंधी समस्याओं के समाधान के लिए हेल्प लाइन नंबर 182 के बारे में महिला यात्रियों को बताया जाएगा। 182 को अपडेट किया जा चुका है। इस नंबर पर आने वाली काल पर तुरंत रिस्पांस देने का सिस्टम बना है। बिलासपुर जोन क्षेत्र में सफर करने वाली महिला यात्री 182 पर काल कर सकती हैं। जोन से बाहर भी इस नंबर पर शिकायत की जा सकती है।

महिला यात्रियों की सुविधा के लिए सीधे आरपीएफ कंट्रोल रूम में भी काल करने के लिए नए नंबर जारी किए गए हैं। इसमें बिलासपुर मोबाइल नंबर 9752876748, सुरक्षा नियंत्रण कक्ष रायपुर मोबाइल नंबर 975444099, सुरक्षा नियंत्रण कक्ष नागपुर मोबाइल नंबर 9730078708, क्षेत्रीय नियंत्रण कक्ष बिलासपुर मोबाइल नंबर 9752475714 चौबीस घंटे उपलब्ध होगा।

इन ट्रेनों में चौकसी

अमरकंटक, सारनाथ, कोरबा-विशाखापत्तनम, राजधानी एक्सप्रेस, हावड़ा-मुंबई मेल, हावड़ा-अहमदाबाद एक्सप्रेस, रायगढ़-गोंदिया जनशताब्दी दोनों रूट की ट्रेन के साथ मुंबई-हावड़ा मेल को शामिल किया गया है। इन ट्रेनों में सिस्टम सफल होने के बाद अन्य ट्रेनों में इसे लागू किया जाएगा।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस