रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

अगर आप अपना मोबाइल कंपनी की सर्विस से परेशान हैं और दूसरी कंपनी के पास जाना चाहते हैं तो आपको थोड़ा रुकना होगा। मिली जानकारी के अनुसार 15 दिसंबर तक मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (एमएनपी) की प्रक्रिया नहीं होगी और 16 दिसंबर से इसकी प्रक्रिया आसान हो जाएगी। बताया जा रहा है कि अपना मोबाइल नंबर एक टेलीकॉम ऑपरेटर से दूसरे टेलीकॉम ऑपरेटर या एक सर्किल से दूसरे सर्किल में पोर्ट कराना पहले से ज्यादा आसान और सस्ता होगा। ट्राई ने संशोधित मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी प्रक्रिया के लिए सार्वजनिक नोटिस जारी किया है।

सूत्रों के अनुसार ट्राई ने कहा कि इस अवधि में विशिष्ट पोर्टिंग कोड भी जनरेट नहीं होगा। हालांकि पहले किये गये पोर्टिंग आग्रह को प्रसंस्कृत किया जाएगा। एमएनपी के तहत कोई भी उपभोक्ता अपना मोबाइल नंबर बदले बिना टेलीकॉम ऑपरेटर को बदल सकता है। बताया जा रहा है कि नई प्रक्रिया विशिष्ट पोर्टिंग कोड (यूपीसी) का सृजन करने की शर्त के साथ लाई गई है। अब एक सर्किल के भीतर पोर्ट करने के आग्रह को तीन कार्य दिवसों में पूरा करना अनिवार्य किया गया है।

नई प्रक्रिया के नियम तय करते हुए ट्राई ने कहा कि विभिन्ना शर्तों के सकारात्मक अनुमोदन से ही यूपीसी का सृजन तय होगा। मौजूदा ऑपरेटर के नेटवर्क पर उसे कम से कम 90 दिन तक सक्रिय रहना होगा। लाइसेंस वाले सेवा क्षेत्रों में यूपीसी चार दिन के लिए वैध होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket