Monsoon 2022 in Chhattisgarh: रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्तीसगढ़ में मानसून का प्रवेश इस वर्ष 10 जून तक संभावित है। मौसम विभाग का कहना है कि जगदलपुर में 10 जून को प्रवेश करने के बाद 15 जून रायपुर और 18 जून अंबिकापुर में मानसून प्रवेश करने के आसार हंै। गौरतलब है कि दक्षिण पश्चिम मानसून इस वर्ष 27 मई को केरल पहुंचने की संभावना है। मौसम विभाग का कहना है कि शनिवार को भी प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में हल्की वर्षा के साथ ही गरज-चमक के साथ छींटे पड़ सकते हैं। प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में तो अंधड़ भी चल सकता है।

बीते कुछ दिनों से प्रदेश में बदले मौसम के मिजाज के चलते अधिकतम तापमान में भी थोड़ी गिरावट आई है। मौसम विभाग का कहना है कि प्रदेश में अधिकतम तापमान में कोई विशेष बदलाव की संभावना नहीं है।

यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि एक उत्तर दक्षिण द्रोणिका छत्तीसगढ़ से दक्षिणी कर्नाटक तक 3.1 किमी ऊंचाई तक विस्तारित है। साथ ही एक द्रोणिका उत्तर पश्चिम राजस्थान से विदर्भ तक 0.9 किमी ऊंचाई तक स्थित है। इसके प्रभाव से शनिवार को प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में हल्की वर्षा होने और गरज-चमक के साथ छींटे पड़ सकते है। उन्होंने कहा कि कुछ क्षेत्रों में अंधड़ भी चल सकता है।

पिछले वर्ष से चार दिन पहले भी पहुंचने के आसार

मौसम विज्ञानियों का दावा है कि प्रदेश में मानसून इस वर्ष अपने निर्धारित समय से चार दिन पहले भी पहुंच सकता है। इसका सबसे कारण तो यह है कि 27 मई तक केरल में दक्षिण पश्चिम मानसून पहुंचने की पूरी संभावना है। ऐसा होता है तो उसके बाद मानसूनी प्रक्रियाओं की रफ्तार और तेज होती है। इसका असर यह भी हो सकता है कि छत्तीसगढ़ में चार दिन पहले यानी छह जून को ही मानसून प्रवेश कर जाएं। पिछले वर्ष यानी 2021 को मानसून प्रदेश में 10 जून को प्रवेश किया था।

ऐसा रहा तापमान

रायपुर 41.0 27.5

बिलासपुर 43.4 28.4

दुर्ग 40.6 27.6

जगदलपुर 35.7 22.0

अंबिकापुर 41.9 27.2

पेन्ड्रा 42.0 25.0

(अधिकतम व न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस में)

Posted By: Abhishek Rai

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close