रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि) । मुंबई के देवनार थाना क्षेत्र से फरार हुए पेशेवर शूटर गैंग के सदस्य को रायपुर में ठिकाना बनाए हुए हैं। इनमें से एक शाप शूटर की गिरफ्तारी मौलीपारा से हुई है। शनिवार को मुंबई पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। यहां ट्रांजिट रिमांड में ले जाया गया। वहीं तेलीबांधा थाना पुलिस ने पुलिस को बिना सूचना दिए मकान मालिक को नोटिस जारी किया है।

तेलीबांधा में ठिकाना बनाने वाले शूटर शाहबाज उर्फ सद्दाम अपने दो अन्य साथियों के साथ कुछ दिन पूर्व रायपुर आया था।आरोपित शाहबाज उर्फ सद्दाम मुंबई में कुछ रोज पहले हीरा कारोबार पर फायरिंग कर उससे लूटपाट के मामले में फरार हुआ था। रायपुर में उसने छह जनवरी को पनाह ली थी। जांच में यह भी पता चला है शाहबाज ने बकायदा एक कमरा मौलीपारा में किराए से ले रखा था। उसके आने की किसी को भी भनक नहीं लगी। मुंबई के मोस्ट वांटेड सूची में आरोपित का नाम शामिल है। उसके खिलाफ जानलेवा हमला कर लूटपाट का मामला मुंबई के देवनार थाना में दर्ज है।

केटरिंग का काम करना बताया

आरोपितों ने केटरिंग का काम करना बताकर किराए में मकान लिया था।फरार आरोपित की रायपुर से गिरफ्तारी मामले में शूटर के रिश्तेदार इरफान कुरैशी और इसरार खान ने अतीक खान नूरानी और उसकी पत्नी दीक्षा जानबाबू निवासी डाक्टर जाकिर हुसैन गोवंडी वेस्ट का आधार कार्ड और पेनकार्ड जमाकर तीन हजार रुपये महीने पर सतनामीपारा मौलीपारा में किराए पर कमान लिया था।

शूटर शाहबाज उर्फ सद्दाम को इसरार और इरफान ने रायपुर बुलाकर छिपाया था।बतादें कि इरफान कुरैशी 2018 में मुंबई के देवनार में हुई एक हत्या का आरोपित है। वहीं दूसरा आरोपी इसरार खान भी मुंबई में मोबाइल चोरी के मामले में दो बार जेल जा चुका है।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local