रायपुर। Naidunia Sehatshala: पोस्ट कोविड के बाद अवसाद के मामले बढ़ गए हैं। इसे दूर करने के लिए दो ऐसे महत्वपूर्ण उपाय हैं, जिससे अवसाद से आप कुछ ही दिन में बाहर निकल सकते हैं। नियमित प्रार्थना और भ्रामरी प्राणायाम को अगर हम जीवन में शामिल कर लेते हैं तो इसका असर कुछ ही दिन में देखने को मिलेगा। भ्रामरी का अभ्यास मस्तिष्क की कोशिकाओं को नियंत्रित करने में मददगार है।

इससे मन में आने वाले अनचाहे विचारों पर भी विराम लगा सकते हैं। नियमित अभ्यास से नींद भी अच्छी आती है और मन को शांति मिलती है। प्रार्थना से हमारे जीवन में कई बदलाव आते हैं। इससे सहनशीलता और मूल्यों के साथ जीवन जीने की भावना प्रबल होती है। जीवन में सत्य को स्वीकारने से भी हम मजबूत होते हैं और अवसाद से दूर होते जाते हैं।

यह कहना है योग विशेषज्ञ व योग चिकित्सक डा. हेमंत शर्मा का। नईदुनिया सेहतशाला में गुरुवार को उन्होंने भ्रामरी का अभ्यास कराया और इसके फायदे के बारे में विस्तार से बात की। उन्होंने बताया कि मानव जो भी देखता है, उसके बारे में मस्तिष्क सोचता है। इसमें कई बार सुख तो कई बार दुख प्राप्त होता है। अगर यह स्थिति लंबे समय तक बनी रहती है तो इससे मानसिक रोग हो सकता है।

इससे चिंता, भय, अनिंद्रा, अस्थमा, डायबिटीज जैसी परेशानी होने लगती है। योग अभ्यास और जीवन शैली अपनाकर इन परेशानियों को दूर किया जा सकता है। नियमित प्रार्थना से चिंता, क्रोध, अनिंद्रा और कई तरह की परेशानी दूर हो जाती हैं। भ्रामरी, ब्रह्म मुद्रा, मार्जरी आसन, भुजंगासन, सेतुबंध आसन को भी जीवन में नियमित शामिल करने से इस तरह की कई समस्याओं को दूर किया जा सकता है।

सवाल- जवाब

बिलासपुर से अनिमेश दीक्षित का सवाल था कि उन्हें गैस से संबंधित परेशानी होती है। इसके लिए कौन से योगासन फायदेमंद रहेंगे।

- डॉ. शर्मा ने बताया कि पवनमुक्तासन, भुजंगासन, धनुरासन, उत्तानपाद आसन से पाचन तंत्र में काफी लाभ मिलता है।

भोपाल से सरोज तिवारी ने सवाल किया कि कार्पल टर्नल सिंड्रोम में योग करके कैसे राहत पा सकते हैं।

- विशेषज्ञ ने बताया कि सूक्ष्म व्यायाम, स्कंद संचालन, ताड़ासन और अन्य कुछ आसन से इसमें राहत मिलती है।

लीजिए योग फोटो कांटेस्ट में हिस्सा

नईदुनिया सेहतशाला में गुरुवार को सत्र के दौरान योग प्रशिक्षक डा. हेमंत शर्मा ने दूसरे 'योग फोटो कान्टेस्ट' की जानकारी दी। प्रतिभागियों को 'त्रिकोणासन' की मुद्रा में अपना एक चित्र दोपहर तीन बजे तक वाट्सएप द्वारा 99934 22333 नंबर पर भेजने को कहा गया। प्राप्त सभी चित्रों में से श्रेष्ठ चित्रों का चयन डॉ. शर्मा ने किया। भोपाल की डा. विनीता जैन का चित्र सर्वश्रेष्ठ चुना गया, जो यहां प्रकाशित किया जा रहा है। अन्य सभी चयनित चित्र नईदुनिया सेहत शाला फेसबुक पेज पर देखे जा सकते हैं। यह कांटेस्ट जारी है।

Posted By: Azmat Ali

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags