रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि), Navratri 2020। रायपुर के प्रसिद्ध मंदिरों में आकाशवाणी तिराहा स्थित काली मंदिर के पुनर्निर्माण को भले ही 30 बरस हुए हैं, लेकिन इतने कम समय में संपूर्ण छत्तीसगढ़ समेत देश भर में मंदिर की प्रसिद्धि फैल चुकी है। ऐसी मान्यता है कि असम के कामाख्या मंदिर में तांत्रिक पूजा करने जाने वाले नागा साधुओं ने देश की आजादी के पहले घने जंगल में अपना डेरा डाला था। यहां रहकर बरगद के पेड़ के नीचे धूनी रमाकर उन्होंने माता काली की प्रतिमा स्थापित की। इसके बाद 1992 में भक्तों ने मंदिर का जीर्णोद्धार करवाया। देखते ही देखते आज यह शहर के सबसे ज्यादा प्रसिद्ध मंदिरों में शुमार हो चुका है।

कोलकाता में आत्मा, मंदिर में शरीर

मंदिर के सचिव डीके दुबे बताते हैं कि भक्तों में ऐसी मान्यता है कि माता काली की आत्मा कोलकाता के दक्षिणेश्वर मंदिर में निवास करती है और शरीर आकाशवाणी तिराहा के मंदिर में है। नागा साधुओं ने तांत्रिक पूजा के लिए प्रतिमा की स्थापना की थी, इसलिए यहां कई तांत्रिक विशेष पूजा करने आते रहते हैं।

उत्तर दिशा में मुख

कहा जाता है कि तांत्रिक पूजा के लिए माता काली की प्रतिमा का मुख उत्तर दिशा में होना चाहिए। इस मंदिर में माता की प्रतिमा का मुख उत्तर दिशा में होने से विशेष महत्व है।

देश-विदेश के भक्त जलवाते हैं जोत

मंदिर में चैत्र और शारदीय नवरात्रि में साढ़े तीन हजार जोत का प्रज्वलन किया जाता है। देश-विदेश में रहने वाले भक्त पहले से ही पंजीयन करवाते हैं।

आहुति देने को उमड़ते हैं भक्त

अष्टमी पर होने वाले हवन में कई जोड़े यजमान बनकर बैठते हैं। यहां आहुति देने के लिए हजारों की संख्या में भक्तों की भीड़ लगी रहती है।

ऐसे पहुंचें मंदिर

रायपुर रेलवे स्टेशन से चार किलोमीटर और बस स्टैंड से तीन किलोमीटर की दूरी पर मंदिर स्थित है। जिला कोर्ट, कलेक्टोरेट परिसर से मात्र एक-डेढ़ किलोमीटर दूर मंदिर के लिए सुबह से रात तक आटो, रिक्शा, टैक्सी की सुविधा उपलब्ध है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020