00 पौधे लगाने के लिए खोदे गए गड्ढों में भर गया पानी

रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

फलदार और छायादार पौधे लगाने के लिए बरसात का मौसम बेहतर माना जाता है, लेकिन रायपुर उद्यानिकी विभाग से सटे गांवों तक विभाग की योजना नहीं पहुंच पाई है। अफसरों की लापरवाही से योजना का लाभ लोगों को नहीं मिल रहा है। इससे फलदार व छायादार पौधे लगाने के इच्छुक किसान के खोदे गए गड्ढों में पानी भर गया, लेकिन निशुल्क पौधा का वितरण का लाभ उन्हें नहीं मिल पाया है। जबकि अगस्त माह भी शुरू हो गया है।

लॉकडाउन का बहाना कहकर लौटा देते हैं कर्मचारी

उद्यानिकी विभाग रायपुर के माध्यम से हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी पौधे वितरित किए जाने हैं, लेकिन विभाग में बैठे अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। पंचायतों में पौधों के लिए पहुंच रहे किसानों को कभी लॉकडाउन तो कभी पौधों का स्टॉक खत्म हो गया कहकर उल्टे पांव लौटा दिया जाता है, जबकि इच्छुक किसानों को निशुल्क पौधा वितरण किया जाने की विभागीय योजना है।

बारिश खत्म होने के बाद नहीं लग पाएंगे पौधे

बारिश खत्म होने के बाद पौधा लगाने में दिक्कत होगी, इसलिए किसान बुवाई और अन्य कार्यों के साथ-साथ खेत की मेड़, खलिहान आदि जगह में नींबू, आम, कटहल जैसे पौधे लगाना चाहते हैं।

ढाई लाख पौधों का हुआ वितरण

शासकीय नर्सरी में इस वर्ष किसानों को फ्री पौधे वितरित करने की प्रक्रिया जून से शुरू हो गई है। उद्यानिकी विभाग रायपुर के प्रभारी नारायण लावत्रे की मानें तो वितरण कार्य चल रहा है। इच्छुक किसानों के नंबर नोट कर उन्हें पौधे उपलब्ध कराए जा रहे हैं। कुछ जगह जरूर लॉकडाउन की वजह से नर्सरी से पौधे नहीं पहुंच पाए थे, जहां इस हफ्ते सप्लाई कर बाकी वितरण के लक्ष्य को पूरा किया जाएगा।

वितरण में शामिल पौधे

विभागीय वितरण में दशहरी लंगड़ा, अमरपाली पपीता, अमरूद, नींबू, कटहल, मोसंबी, सीताफल समेत गेंदा फूल आदि शामिल हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020